WWC : बेटियों ने भारत का नाम किया रोशन, न्यूजीलैंड को हराकर सेमीफाइनल में रखा कदम

0

डर्बी (इंग्लैंड)। आईसीसी महिला विश्वकप 2017 के करो या मरो के मुकाबले में भारतीय महिला टीम ने न्यूजीलैंड को 186 रनों से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है। टीम इंडिया ने कप्तान मिताली राज के शानदार शतक (109) की बदौलत भारत ने न्यूजीलैंड को 186 रन से करारी शिकस्त दी। अब भारत का सामना आस्ट्रेलिया से होगा।

आईसीसी महिला विश्वकप

कीवी महिलाओं को 25.3 ओवरों में 79 रनों पर ढेर कर दिया

भारत ने पहले शानदार फॉर्म में चल रही कप्तान मिताली राज (109) के बेहतरीन शतक की मदद से न्यूजीलैंड के सामने 266 रनों की चुनौती रखी और फिर राजेश्वरी के नेतृत्व में अपने गेंदबाजों के उम्दा खेल की बदौलत कीवी महिलाओं को 25.3 ओवरों में 79 रनों पर ढेर कर दिया। मिताली को वुमैन ऑफ द मैच चुना गया। एमी सैदरवेट (26) को छोड़कर कोई अन्य बल्लेबाज भारतीय गेंदबाजों के अनुशासन के आगे नहीं टिक सकी।

राजेश्वरी गायकवाड ने 15 रन देकर पांच सफलता हासिल की

पांच रन पर कप्तान सूजी बेट्स (1) का विकेट गंवाने वाली कीवी टीम लगातार अंतराल पर विकेट गंवाती रही और अंतत: 79 रनों पर ढेर हो गई। भारत की ओर से राजेश्वरी गायकवाड ने 15 रन देकर पांच सफलता हासिल की। दीप्ति शर्मा को दो विकेट मिले। शिखा पांडे, पूनम यादव और झूलन गोस्वामी ने भी एक-एक सफलता हासिल की। इससे पहले, भारत ने बल्लेबाजी का आमंत्रण मिलने पर निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट खोकर 265 रन बनाए।

21 रनों पर ही अपने दो अहम विकेट खो दिए

मिताली का यह इस विश्व कप में पहला और कुल छठा शतक है। उन्होंने 123 गेंदों में 11 चौकों की मदद से शतकीय पारी खेली। उनके अलावा हरमनप्रीत कौर ने 60 तथा वेदा कृष्णामूर्ति ने 43 गेंदों में 70 रनों की तेज तरार्र पारी खेलते हुए टीम को मजबूती प्रदान की। भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसने 21 रनों पर ही अपने दो अहम विकेट खो दिए।

पूनम राउत चार रनों के निजी स्कोर पर आउट हुईं

पिछले मैच में आस्ट्रेलिया के खिलाफ शतक लगाने वाली पूनम राउत चार रनों के निजी स्कोर पर आउट हुईं। वहीं, सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना एक बार फिर बल्ले से नाकाम रहीं और महज 13 रन ही बना सकी। यहां से मिताली और हरमनप्रीत ने तीसरे विकेट के लिए 132 रनों की शतकीय साझेदारी करते हुए टीम का स्कोर 153 तक पहुंचाया। 90 गेंदों का सामना करते हुए सात चौके लगाने वाली हरमनप्रीत, लेघ कास्पेरेक का शिकार हुईं।

सात गेंदों का सामना करने के बाद भी दीप्ति शर्मा खाता नहीं खोल पाईं

सात गेंदों का सामना करने के बाद भी दीप्ति शर्मा खाता नहीं खोल पाईं। उनके रूप में भारत ने अपना चौथा विकेट खोया। मिताली को फिर वेदा का साथ मिला। मिताली थोड़ा धीमा खेल रही थीं तो वेदा ने तेजी से रन बनाए। उन्होंने अपनी पारी में दो छक्के और सात चौके लगाए। दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 108 रन जोड़ते हुए टीम को मजबूत स्कोर दिया। दोनों खिलाड़ी आखिरी ओवर में आउट हुईं। पहला सेमीफाइनल भारत तथा आस्ट्रेलिया के बीच होगा जबकि दूसरे सेमीफाइनल में दक्षिण अफ्रीका का सामना इंग्लैंड से होगा।

loading...
शेयर करें