फिर कट्टरता का शिकार बना इंडोनेशिया , Church को बनाया गया निशाना

जकार्ता : रविवार की सुबह इंडोनेशिया के माकासर शहर में मौजूद एक रोमन कैथोलिक Church में बड़ा धमाका हुआ। हादसे के बाद जारी किये अपने बयान में इंडोनेशियाई नेशनल पुलिस के जनरल राडेन ने बताया की 10:20 बजे के आसपास हुए हादसे में किसी की मौत तो नहीं हुई है, लेकिन 19 लोग घायल हुए हैं जिन का इलाज चल रहा है। उन्होंने बताया की धमाके की जाँच चल रही है।

Church में हुए इस हादसे की चल रही हैं जाँच

पुलिस के मुताबिक हादसे की जगह से एक दो बॉडीज बरामद हुई हैं। शुरुआती जाँच में लग रहा है की यह सुसाइड बॉम्बर थे जिन्होंने खुद को ही उड़ा लिया था। न्यूयोर्क टाइम्स के साथ साझा की गई हादसे की साइट की वीडियो में जमीन पर बिखरे मलबे में आसपास मौजूद ताड़ सुलगते दिख रहे हैं। इसी से अंदाज़ा लगाया जा सकता है की हादसा कितना भीषण था।

इंडोनेशिया यूँ तो मुस्लिम मेजोरिटी मुल्क है फिर भी यहाँ ईसाई भी अच्छी खासी तादाद में हैं। और यह सरकार की ज़िम्मेदारी है की सब को सिक्योरिटी दे ताकि हर कोई अपने फेथ के अनुसार बिना डरे पूजा कर सके । यह कहना है इंडोनेशिया के प्रेजिडेंट का जिन्होंने अपने बयान में लोगों को यकीन दिलाया की इस हादसे के गुनहगार जल्द ही सलाखों के पीछे होंगे।

हाल के वर्षों में, इस्लामिक स्टेट इंडोनेशिया में कई चर्च को निशाना बना चुका है। चाहे वह 2018 में इंडोनिशया के दूसरे सबसे बड़े शहर सुरबाया में हुआ हादसा हो जिसमे शहर के तीन बड़े  चर्चों पर बमबारी की गई थी। जिसमें एक दर्जन से ज़्यादा लोग मारे गए। इस हादसे में आत्मघाती हमलावर एक विवाहित जोड़ा और उनके चार बच्चे थे। जिन्होंने खुद को उड़ा लिया था। इसी के साथ साथ पिछले साल भी इंडोनिशया के एक रोमन कैथोलिक कैथेड्रल  पर बमबारी हुई थी, जिसमें 14 लोगों की मौत हो गई थी।

यह भी पढ़ें : बाजारों में दिखा कोरोना (Corona) का असर, होली पर रंग विक्रेताओं को नुकसान

Related Articles

Back to top button