भारी बवाल के बाद इंटरनेट सेवाएं व स्कूल बंद, बीजेपी को घेरने पहुंच रहे विपक्ष

लखीमपुर खीरी: उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सियासी पारा गरमा गया है। लखीमपुर खीरी में रविवार को तिकुनिया के पास किसानों और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प से शुरू हुई घटना ने हिंसक रूप ले लिया। इसमें 4 किसान समेत 8 लोग मारे गए हैं। मारे गए 4 अन्य लोग बीजेपी कार्यकर्ता बताए जा रहे हैं।

आरोप है कि झड़प के दौरान किसानों पर गाड़ी चढ़ा दी गई है। इस घटना के बाद राज्य में सियासी पारा गरम हो चुका है. कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी, अखिलेश यादव, राकेश टिकैत ने लखीमपुर खीरी पहुंचने वाले हैं। इस बीच, सीएम योगी आदित्यनाथ अपने सारे कार्यक्रम रद्द कर लखनऊ में हैं। उन्होंने घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। एहतियातन जियो की इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। कुछ इलाकों में एयरटेल और अन्य कंपनियों ने भी अपनी इंटरनेट सेवा बंद कर दी है। जिला प्रशासन ने सोमवार को निजी स्कूल बंद रखने का फैसला किया है। फिलहाल घटनास्थल पर भारी पुलिस फोर्स और पीएसी की तैनाती है।

उधर, BSP महासचिव सतीश चन्द्र मिश्र भी रविवार देर रात लखीमपुर जाने वाले थे कभी उन्हें पुलिस ने हाउस अरेस्ट कर लिया है। पुलिस से बात करतर हर उन्होंने कहा, मुझे कानून का पूरा ज्ञान है। पुलिस ने मेरा घर घेर रखा है, किसके निर्देश पर मुझे रोका गया, पुलिस मुझे लिखित आदेश दिखाए,मुझे लखीमपुर जाने से क्यों रोका जा रहा,मैं शांतिपूर्वक लखीमपुर जाना चाह रहा हूं, मुझे रोकने का आदेश है तो दिखाइये।

Related Articles