इंटरपोल ने जाकिर नाइक पर रेड कॉर्नर नोटिस किया रद्द, NIA ने कहा- फिर करेंगे आग्रह

0

नई दिल्ली| इंटरपोल ने शनिवार को विवादास्पद इस्लामिक उपदेशक जाकिर नाईक के खिलाफ रेड कार्नर नोटिस (आरसीएन) जारी करने से इनकार कर राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को तगड़ा झटका दिया था लेकिन एनआईए ने अभी हार नहीं मानी है। एनआईए का कहना है कि वह इसके लिए फिर से इंटरपोल से आग्रह करेगी।

एनआईए के एक अधिकारी ने कहा कि एनआईए की जाकिर नाईक के खिलाफ रेड कार्नर नोटिस के आग्रह को इंटरपोल ने स्वीकार नहीं किया क्योंकि इंटरपोल मुख्यालय को आग्रह जमा किए जाने के दौरान आरोप पत्र दाखिल नहीं किए गए थे। अब एनआईए इंटरपोल से फिर आग्रह करेगा, क्योंकि मुंबई की एनआईए अदालत में पहले ही आरोप पत्र दाखिल किया जा चुका है।

नाईक के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि इंटरपोल ने नाईक पर रेड कार्नर नोटिस को रद्द कर दिया है और दूसरे कारणों सहित राजनीतिक व धार्मिक पूर्वाग्रहों का हवाला देते हुए दुनिया भर में अपने कार्यालयों के सभी फाइलों से उनके डाटा को हटाने के लिए कहा है।

इसमें यह भी कहा गया कि इंटरपोल आयोग ने गहन जांच में पाया कि भारतीय एजेंसी का आग्रह इंटरपोल के नियमों के अनुरूप नहीं था और इस तरह से भारत सरकार के रेड कार्नर नोटिस जारी करने के आग्रह को रद्द कर दिया।

भारत सरकार ने नाईक व उसके संगठन इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन को पांच साल के लिए प्रतिबंधित किया है और इसे गैरकानूनी संगठन घोषित किया है।

loading...
शेयर करें