विकास दुबे का साथ देने वाले 11 सीओ के खिलाफ जांच शुरु

विकास दुबे और  उसके रिश्तेदारों, खास गुर्गों के शस्त्र लाइसेंस बनाए गए थे। विकास दुबे, उसके पिता रामकुमार दुबे, भाई दीपक दुबे, उसकी पत्नी अंजलि के अलावा उसके रिश्तेदारों के  भी शस्त्र लाइसेंस बने थे।

कानपुर: बिकरु कांड में विकास दुबे का साथ देने वाले कुछ और पुलिस अधिकारियों के खिलाफ जांच शुरु हो गई है। जल्द ही उन पर भी कार्रवाही हो सकती है। एसआईटी की अनुरोध करने पर बिल्हौर सर्कल  में तैनात 11 सीओ को दोषी मानते हुए इसकी जांच करने के लिये एसपी वेस्ट अनिल कुमार को सौंपा गया हैं।

11 सीओ के नाम

तत्कालीन सीओ ऑफिस नोडल अधिकारी पासपोर्ट अमित कुमार
तत्कालीन सीओ बिल्हौर नंदलाल सिंह
तत्कालीन सीओ बिल्हौर करुणाशंकर राय
तत्कालीन सीओ बिल्हौर हरेन्द्र कुमार यादव
तत्कालीन सीओ बिल्हौर सुंदर लाल
तत्कालीन सीओ बिल्हौर प्रेम प्रकाश
तत्कालीन सीओ बिल्हौर राम प्रकाश अरुण
तत्कालीन सीओ बिल्हौर सुभाष चन्द्र शाक्य
तत्कालीन सीओ अकबरपुर लक्ष्मी निवास

इनके ही कार्यकाल  के दौरान  विकास दुबे और  उसके रिश्तेदारों, खास गुर्गों के शस्त्र लाइसेंस बनाए गए थे। विकास दुबे, उसके पिता रामकुमार दुबे, भाई दीपक दुबे, उसकी पत्नी अंजलि के अलावा उसके रिश्तेदारों के  भी शस्त्र लाइसेंस बने थे।

आरोप यह लगा है कि लाईसेंस बनने की प्रक्रिया में सीओ ने अपनी रिपोर्ट गलत तरीके से लगाई थी और इसी तरह इंसपेक्टर और बाकी सभी जूनियर पुलिसकर्मियों के समेत 23 की जांच एसपी पूर्वी राजकुमार अग्रवाल कर रहे हैं। इसके साथ डीआईजी भी 14 पुलिसकर्मियों की जांच कर रहें हैं।

यह भी पढ़े: किसानों को कोई आशंका है तो सरकार बातचीत के लिए तैयार: मोदी

Related Articles

Back to top button