#IPL2018: इन 11 धुरंदर खिलाडियों के साथ पुराने रूतबे को बरकारर रखना चाहेगी CSK

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के इतिहास की सबसे सफल टीम की बात की जाए तो चेन्नई सुपर किंग्स का नाम सबसे पहले आता है। महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी वाली इस टीम ने दो बार आईपीएल का खिताब जीता है तो वहीं लगभग हर बार प्लेऑफ में जगह बनाई है। चेन्नई दो साल प्रतिबंध के बाद आईपीएल में वापसी कर रही है, ऐसे में उसकी चुनौती अपने पुराने रूतबे को बनाए रखने की है।

CSK

फ्रेंचाइजी ने इस बार अधिकतर अपने वही खिलाड़ियों को टीम में बनाए रखा है जो दो साल पहले टीम में थे। टीम की कप्तानी एक बार फिर धौनी के हाथों में हैं। उनके अलावा सुरेश रैना और रवींद्र जडेजा को टीम ने रिटने किया था। वेस्टइंडीज के ड्वायन ब्रावो को फ्रेंचाइजी ने राइट टू मैच के जरिए अपने पास ही रखा।

इसके अलावा टीम ने इस बार टीम में हरभजन सिंह, इमरान ताहिर और आस्ट्रेलिया के हरफनमौला खिलाड़ी शेन वाटसन को टीम में शामिल किया है। वहीं मुरली विजय, केदार जाधव, दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस और इंग्लैंड के जोस बटलर जैसे धुरंधर खिलाड़ी हैं।

दो बार की विजेता के पास गेंदबाजी में अच्छी खासी ताकत है। टीम में युवा तेज गेंदबाज शार्दूल ठाकुर, मार्क वुड और दक्षिण अफ्रीका के लुंगी नगिदी हैं। पिछले सीजन में राइजिंग पुणे सुपरजाएंट के लिए खेलने वाले दीपक चहर, के.एम. आसिफ और मोनू सिंह के रूप में अच्छी बेंच स्ट्रेंथ है।

स्पिन विभाग में हरभजन और ताहिर टीम के मुख्य हथियार हैं वहीं बैकअप में कर्ण शर्मा के रूप में अच्छा विकल्प है।

टीम की ताकत उसका संयोजन है जो धौनी जैसे कप्तान के साथ और बेहतर लग रहा है। हालांकि इस टीम की एक कमजोरी यह है कि इसके 25 खिलाड़ियों में 11 खिलाड़ी 30 से ज्यादा उम्र के हैं जो खेल के छोटे प्रारुप में उसे दिक्कत दे सकते हैं।

टीम- महेंद्र सिंह धौनी (कप्तान), रवींद्र जडेजा, सुरेश रैना, केदार जाधव, ड्वायन ब्रावो, कर्ण शर्मा, शेन वाटसन, शार्दूल ठाकुर, अंबाती रायुडू, मुरली विजय, हरभजन सिंह, फाफ डु प्लेसिस, मार्क वुड, सैम बिलिंग्स, इमरान ताहिर, दीपक चहर, लुंगी नगिदी, के.एम. आसिफ, एन. जागाडेसान, कनिष्क सेठ, मोनू सिंह, ध्रूव शोरे, क्षितिज शर्मा, चैतन्य बिश्नोई।

Related Articles