IPL 2020: मुंबई से मैच हारने के बाद धोनी ने कहा, ‘देखने की जरूरत है कि चूक कहां पर हुई ‘

शारजाह: मुंबई इंडियंस से 10 विकेट से हारने के बाद चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने निराशा के साथ कहा कि यह वर्ष हमारा नहीं है। और अब हमें यह देखने की जरूरत है कि चूक कहां पर हुई है।

मैच हारने के बाद धोनी निराश

मैच हारने के बाद निराश धोनी ने कहा, “इससे (हार से) दुख होता है। आपको यह देखने की जरूरत है कि गलती कहां हो रही है। यह वर्ष हमारा नहीं है। इस वर्ष केवल एक या दो मैच में हमने अच्छी बल्लेबाजी और गेंदबाजी की है। यह उतना मायने नहीं रखता कि आप दस विकेट से हार रहे हैं या आठ विकेट से। हार से सभी खिलाड़ी दुखी है लेकिन वे अपनी तरफ से जीतने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। चीजें हमेशा हमारे अनुसार नहीं चलतीं।”

उन्होंने कहा, “उम्मीद है कि अगले तीन मैचों में हम अच्छा प्रदर्शन कर पाएं। मुझे लगता है कि हमारी बल्लेबाजी सही नहीं रही। अंबाटी रायडू चोटिल हो गये और शेष बल्लेबाज अच्छा नहीं कर पाये और हम सिर्फ बल्लेबाजी क्रम पर दबाव बनाते रहे। हम जब भी शुरुआत अच्छी नहीं कर पाते हैं तो मध्य क्रम के लिए मुश्किल खड़ी हो जाती हैं।”

धोनी ने कहा, “क्रिकेट में जब आप मुश्किल दौर से गुजर रहे होते हैं। तो आपकाे अच्छी चीजें होने के लिए थोड़े बहुत नसीब के साथ की जरूरत भी होती है। इस टूर्नामेंट में चीजें हमारे पक्ष में नहीं रहीं। हमने टॉस नहीं जीता और जब हम बल्लेबाजी करने लगे तो मैदान पर बहुत ओस गिर गई इसलिए कुछ भी हमारे अनुसार नहीं हुआ। जब भी आप अच्छा प्रदर्शन नहीं करते हैं तो उसके सौ कारण होते हैं। एक मुख्य बात है जो आप खुद से पूछते हैं कि क्या आप अपनी पूरी क्षमता से खेल रहे हैं।”

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान ने कहा, “जब आप ग्यारह खिलाड़ियों के साथ खेलते हैं तो आप यह आकलन करते हैं कि मैदान पर उन्होंने किस समय अच्छा प्रदर्शन किया। मुझे लगता है कि इस वर्ष हमने यह नहीं किया। जब आपकी टीम के तीन या चार बल्लेबाज अच्छा प्रदर्शन नहीं करते तो मैच जीतना मुश्किल हो जाता है। आप जब निराश होते हैं तो भी अपने चेहरे पर मुस्कान रखते हैं ताकि ऐसा न लगे कि आप घबराये हुये हैं। हमने ड्रेसिंग रूम का माहौल वैसा ही रखा है और उम्मीद है कि हम अगले तीन मैचों में कम से कम आत्मसम्मान के लिए ही सही, स्थिति को बदल पाएं।

उन्होंने कहा, “हमें अगले वर्ष के लिए एक स्पष्ट कार्यक्रम की आवश्यकता है। नीलामी के तरीके, खेल के स्थानों के बारे में स्पष्टता की जरूरत है ताकि खिलाड़ियों को प्रदर्शन करने और अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर मिल सके। हमें अगले तीन मैचों में अच्छा करना है और इसके जरिये अगले वर्ष के लिए अच्छी तैयारी होगी। मैं कप्तान हूं और कप्तान अपनी जिम्मेदारी से भाग नहीं सकता इसलिए मैं सभी मैचों में खेलूंगा।”

ये भी पढ़ें: IPL 2020: दिल्ली और कोलकाता के बीच होने वाले इस मुकाबले में बन सकते हैं कई रिकॉर्ड

Related Articles

Back to top button