IPL 2020: बेंगलुरु को पीटकर मुंबई ने प्लेऑफ में बनाई जगह

मुंबई की 12 मैचों में यह आठवीं जीत है और वह 16 अंकों के साथ प्लेऑफ में पहुंचने वाली पहली टीम बन गयी है। दूसरी तरफ बेंगलुरु को 12 मैचों में पांचवीं हार का सामना करना पड़ा।

अबू धाबी: शानदार फॉर्म में चल रहे सूर्यकुमार यादव की नाबाद 79 रन की चमकदार पारी की बदौलत गत चैंपियन मुंबई इंडियंस ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को बुधवार को एकतरफ़ा अंदाज में पांच विकेट से हराकर आईपीएल-13 के प्लेऑफ में प्रवेश कर लिया।

बेंगलुरु ने सलामी बल्लेबाज देवदत्त पडिकल की 74 रन की शानदार अर्धशतकीय पारी से 20 ओवर में छह विकेट पर 164 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया लेकिन सूर्य ने सिर्फ अपने दम पर मुंबई को जीत दिला दी। मुंबई ने 19.1 ओवर में पांच विकेट 166 रन बनाकर जीत हासिल कर ली। सूर्य ने 43 गेंदों पर नाबाद 79 रन की मैच विजयी पारी में 10 चौके और तीन छक्के लगाए।

प्लेऑफ में मुंबई 

मुंबई की 12 मैचों में यह आठवीं जीत है और वह 16 अंकों के साथ प्लेऑफ में पहुंचने वाली पहली टीम बन गयी है। दूसरी तरफ बेंगलुरु को 12 मैचों में पांचवीं हार का सामना करना पड़ा। बेंगलुरु के खाते में 14 अंक हैं और प्लेऑफ में पहुंचने के लिए उसे अपने बचे दो मैचों में से एक जीत हासिल करने की जरूरत है। बेंगलुरु तालिका में मुंबई के बाद दूसरे स्थान पर है।

बुमराह के आगे गुमराह हुई बेंगलुरु 

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते बेंगलुरु एक समय एक विकेट पर 95 रन बनाकर अच्छी स्थिति में था लेकिन उसके बाद बेंगलुरु ने अपनी विकेट बराबर गंवाए और टीम बड़ा स्कोर बनाने से चूक गयी। तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने चार ओवर में मात्र 14 रन पर तीन विकेट लेकर बेंगलुरु पर ब्रेक लगा दिया। बेंगलुरु के लिए पडिकल ने 45 गेंदों पर 74 रन में 12 चौके और एक छक्का लगाया।

टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए बेंगलुरु ने अच्छी शुरुआत की। देवदत्त पडिकल और आरोन फिंच की जगह टीम में शामिल किये गए जोश फिलिप ने पहले विकेट के लिए 75 ओवर में 71 रन की ठोस साझेदारी की। फिलिप को लेग स्पिनर राहुल चाहर की गेंद पर विकेटकीपर क्विंटन डी कॉक ने स्टंप किया।

खामोश रहे विराट और डिविलियर्स 

कप्तान विराट कोहली इस बार लम्बी पारी नहीं खेल पाए और जसप्रीत बुमराह ने उन्हें सौरभ तिवारी के हाथों कैच करा दिया। विराट का विकेट 95 के स्कोर पर गिरा। एबी डिविलियर्स ने 12 गेंदों में एक चौके और एक छक्के के सहारे 15 रन बनाये लेकिन मुंबई के कप्तान कीरोन पोलार्ड की गेंद पर राहुल चाहर को कैच थमा बैठे। डिविलियर्स का विकेट 16वें ओवर में 131 के स्कोर पर गिरा।

पडिकल एक छोर पर जमकर खेल रहे थे और उन्होंने अपना अर्धशतक भी पूरा कर लिया लेकिन दूसरे छोर पर विकेट गिरते रहे। डिविलियर्स का विकेट गिरने के बाद मैदान पर उतरे शिवम दुबे ज्यादा देर तक विकेट पर नहीं टिक सके। बुमराह ने दुबे को सूर्यकुमार यादव के हाथों कैच करा दिया। दुबे दो रन ही बना सके। दुबे का विकेट 134 के स्कोर पर गिरा। बुमराह ने इसी ओवर में पडिकल को भी आउट कर दिया।

पडिकल ने बनाया अर्धशतक 

पडिकल का आउट होना बेंगलुरु के लिए बड़ा झटका था। पडिकल ने 45 गेंदों पर 74 रन में 12 चौके और एक छक्का लगाया। पडिकल टीम के 134 के स्कोर पर आउट हुए। बेंगलुरु इस झटके से संभला भी नहीं था कि क्रिस मौरिस को ट्रेंट बोल्ट ने अपना शिकार बना लिया। मौरिस ने चार रन बनाये और उनका विकेट 138 के स्कोर पर गिरा। बेंगलुरु ने मात्र सात रन के अंतराल में चार विकेट गंवा दिए।

वाशिंगटन सुंदर ने नाबाद 10 और गुरकीरत सिंह मान ने नाबाद 14 रन बनाकर बेंगलुरु को 164 तक पहुंचाया। गुरकीरत ने आखिरी ओवर में बोल्ट पर लगातार दो चौके मारे। मुंबई की तरफ से बुमराह के तीन विकेट के अलावा बोल्ट, पोलार्ड और चाहर ने एक-एक विकेट लिया।

मुंबई की बेहतरीन प्लानिंग 

लक्ष्य का पीछा करते हुए मुंबई ने छोटी-छोटी साझेदारियां करते हुए अपने कदम आगे बढ़ाये। क्विंटन डी कॉक और ईशान किशन ने पहले विकेट के लिए 37 रन जोड़े। डी कॉक ने 19 गेंदों में एक छक्के के सहारे 18 रन बनाये। ईशान ने सूर्य के साथ दूसरे विकेट के लिए 15 रन जोड़े। ईशान ने 19 गेंदों में तीन चौकों और एक छक्के के सहारे 25 रन बनाये। सूर्य ने सौरभ तिवारी के साथ तीसरे विकेट लिए 20 रन जोड़े। सौरभ पांच रन बनाकर आउट हुए।

सूर्य कुमार यादव ने मुंबई को दिलाई आसान जीत 

सूर्य ने क्रुणाल पांड्या के साथ चौथे विकेट के लिए 35 रन की साझेदारी की। क्रुणाल ने 10 गेंदों में एक चौके की मदद से 10 रन बनाये। सूर्य का साथ देने हार्दिक पांड्या मैदान में उतरे। एक छोर पर जमकर खेल रहे सूर्य ने 16वें ओवर में मोहम्मद सिराज पर लगातार दो चौके मारकर अपना अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने इस ओवर में तीसरा चौका भी लगाया। सूर्य का अबु धाबी के मैदान पर इस सत्र में यह तीसरा अर्धशतक था।

पारी का 18वां ओवर डाल रहे डेल स्टेन ने तीन वाइड डालकर मुंबई को तीन रन तो तोहफे दे डाले। सूर्य ने इसी ओवर में स्टेन की फुलटॉस को विकेट के पीछे छक्के के लिए उठा दिया। मुंबई को अब आखिरी दो ओवर में जीत के लिए 16 रन की जरूरत थी।

हार्दिक पांड्या ने 15 गेंदों में दो छक्कों की मदद से 17 रन बनाये। सूर्य और हार्दिक ने पांचवें विकेट के लिए 51 रन जोड़कर टीम को जीत के करीब पहुंचा दिया। सूर्य ने आखिरी ओवर की पहली गेंद पर विजयी चौका मारकर मैच समाप्त कर दिया और मुंबई को प्लेऑफ में पहुंचा दिया।

ये भी पढ़ें- रूस में कोरोना से एक दिन में रिकाॅर्ड 346 लोगों की मौत, कुल संक्रमित मामले 15,63,976

Related Articles

Back to top button