IPS अधिकारी का खुलासा, ‘आसाराम चायवाला बनकर करता था शराब की तस्करी’

जयपुर: 2013 में आसाराम को गिरफ्तार करने वाले IPS अधिकारी ने अपनी लिखी किताब में आसाराम को लेकर कई खुलासे किये हैं। उन्होंने आसाराम के चायवाला बनकर अवैध शराब की तस्करी करने की बातें अपनी किताब में लिखी हैं। यही नहीं आसाराम समर्थकों की पुलिस अधिकारियों को धमकाने की बातें भी सामने आयी है।

रेप के आरोपी आसाराम पर 2013 में उन्हें गिरफ्तार करने वाले IPS अफसर अजयपाल लांबा ने किताब लिखी है। Gunning for the Godman: The True Story Behind Asaram Bapu’s Conviction किताब में अजयपाल लांबा ने आसाराम को लेकर कई खुलासे किये हैं। गिरफ़्तारी से लेकर जाँच के दौरान अजयपाल लांबा ने अपने अनुभवों को किताब की शक्ल में पिरोया है और आसाराम के काले कारनामों का पर्दाफाश किया है। लांबा ने अपनी किताब में आसाराम के चायवाला बनकर अवैध शराब की तस्करी करने की बात लिखी है।

क्या कुछ और लिखा है किताब में

कथित अध्यात्मिक गुरु आसाराम का पहले नाम आसुमल सीरुमलानी नाम था। उसने अपनी अध्यात्मिक हनक को देखते हुए अपना नाम आसाराम बापू रख लिया। गिरफ़्तारी से पहले जाँच कर रहे IPS अजयपाल को पता चला की आसाराम चायवाला बनकर अवैध शराब की तस्करी में तल्लीन था। यही नहीं किताब में लिखा है कई जाँच आख्या में पुलिस ने आसाराम को सेक्स एडिक्ट और युवतियों की मांग करने की बात भी कही थी।

गिरफ्तारी के बाद आते थे धमकी भरे फोन

IPS अजयपाल ने अपनी किताब में इस बात का भी जिक्र किया है कि किस तरीके से आसाराम की गिरफ्तारी के बाद उनके पास धमकी भरे फोन आते थे। आसाराम के अनुयायी उन्हें फोन पर धमकाते थे। IPS अजयपाल की पत्नी धमकियों से इतना डर गयीं की उन्होंने अपनी बेटी को स्कूल भेजना बंद कर दिया। धमकियों का सिलसिला तब शुरू हुआ जब आसाराम के समर्थकों को इस बात का पता चला कि IPS अजयपाल आसाराम पर किताब लिख रहे हैं.

Related Articles