ईरान ने अमेरिका संग वार्ता से किया इनकार, कहा- दबाव में बातचीत संभव नहीं!

तेहरान: ईरान ने अमेरिका पर दबाव बनाने का आरोप लगाया है। शनिवार को विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता बहराम कासेमी ने कहा कि ईरान किसी दबाव में आकर अमेरिका संग वार्ता नहीं करेगा, खासकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ, जिन्होंने समझौते का उल्लंघन किया है।

समाचार एजेंसी आईआरएनए ने कासेमी के हवाले से बताया कि अगर अमेरिका वार्ता चाहता है तो उसे दबाव बनाना और प्रतिबंध लगाना बंद करना चाहिए।उन्होंने कहा कि इस तरह के दबाव में दोनों देशों की बीच वार्ता नहीं हो सकती। साथ ही यह भी कहा कि ईरान के लोग दबाव का विरोध करेंगे और आखिरकार जीतेंगे।

वहीं कासेमी ने अमेरिका और ईरान के बीच युद्ध होने की संभावना से इनकार किया। उन्होंने कहा कि मौजूदा दुनिया में कोई भी देश इस तरह की गतिविधि को अंजाम देने में समर्थ नहीं है। उन्होंने कहा कि कोई भी देश युद्ध का पक्षधर नहीं है। ईरान भी कभी ऐसा नहीं चाहता है।

प्रवक्ता ने कहा कि तेहरान उम्मीद करता है कि इस साल मई में अमेरिका के समझौते से अलग होने के बाद यूरोपीय देश ईरानी परमाणु समझौते को बचाने के प्रस्तावों के एक व्यावहारिक पैकेज को आगे बढ़ाएंगे, जिसे जेसीपीओए के तौर पर भी जाना जाता है।

Related Articles