ईरान: सऊदी के संबंध तोड़ने से उसकी बड़ी गलती से ध्यान नहीं भटकेगा

Flag of Iran

तेहरान। सऊदी अरब ने ईरान से सारे संबंध तोड़ लिए हैं। ऐसा उसने एक शिया नेता को मौत की सजा और दूतावास और वाणिज्य दूतावास पर हुए हमलों के विरोध में किया है। वहीं ईरान ने इस पर प्रतिक्रिया करते हुए कहा है कि सऊदी अरब के निर्णय से उसका ध्यान नहीं भटकेगा।

ईरान ने बताया बड़ी गलती
ईरान ने इस मामले पर कहा कि उसके साथ संबंध समाप्त करने के सऊदी अरब के निर्णय से रियाद की उस बड़ी गलती’ से ध्यान नहीं भटकेगा जो उसने एक शीर्ष शिया धर्मगुरू को मौत की सजा देकर की है। सऊदी अरब ने ईरान में राजनयिक मिशनों पर हमलों के बाद ईरान के साथ राजनयिक संबंध समाप्त करने का निर्णय लिया है।

यह भी पढ़ें: सऊदी अरब: दूतावास पर हमलों के विरोध में ईरान से संबंध तोड़े

सऊदी अरब ने की भूल
ईरान के उप विदेश मंत्री हुसैन आमिर अब्दुल्लाहियां ने कहा कि संबंध तोड़ने का निर्णय लेकर सऊदी अरब एक धर्मगुरू को मौत की सजा देने की बड़ी गलती से (दुनिया का) ध्यान नहीं भटका सकता। उन्होंने कहा कि सउदी अरब ने ‘लापरवाही और जल्दबाजी में निर्णय लेकर रणनीतिक भूल की है। इन फैसलों ने इलाके में अस्थिरता फैलाई है और आतंकवाद को बढाया है।’ निम्र अल निम्र को मौत की सजा दिए जाने का पश्चिम एशिया में शिया बहुल देशों में कड़ा विरोध हो रहा है। इस बीच लोगों की भीड़ ने तेहरान में सउदी दूतावास और मशहाद शहर में एक वाणिज्य दूतावास पर हमला कर दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button