अवॉर्ड शो में चला ऐसा वीडियो, Dialouge सुन Irrfan Khan का बेटा फूट-फूट कर रो पड़ा

अभिनेता Irrfan Khan ने पिछले साल 29 अप्रैल को दुनिया को अलविदा कह दिया था, लेकिन जख्म अभी भी ताजा है। उनके निधन से फैंस ही नहीं, बल्कि पूरी फिल्म इंडस्ट्री दुखी थी।

मुंबई: बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता Irrfan Khan ने पिछले साल 29 अप्रैल को दुनिया को अलविदा कह दिया था, लेकिन जख्म अभी भी ताजा है। उनके निधन से फैंस ही नहीं, बल्कि पूरी फिल्म इंडस्ट्री दुखी थी। ऐसा कोई मोका नहीं जब इरफान को उनके शानदार अभिनय के लिए याद नहीं किया जाता हो। फिल्मफेयर अवॉर्ड्स में जब उनका जिक्र हुआ तो वहां मौजूद राजकुमार राव सहित सभी की आंखें भर आईं।

Irrfan Khan को मिला खास Tribute

इसी कड़ी में फिल्मफेयर की तरफ से इरफान खान को खास Tribute दिया गया। उन्हें विशेष अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। इरफान के बेटे बाबिल फफक कर रो पड़े और अवॉर्ड लेते समय अपने पिता को याद करते हुए एक वादा भी किया। कलर्स चैनल ने सोशल मीडिया पर फिल्मफेयर अवॉर्डस का एक प्रोमो शेयर किया है। इसमें राजकुमार राव की अवाज सुनाई देती है। ‘इस साल आनंद को 50 साल पूरे हो गए हैं।

Irrfan ने कहा था जिंदगी लंबी नहीं बड़ी होनी चाहिए

इस फिल्म में राजेश खन्ना साहब जो आनंद का कैरेक्टर प्ले करते हैं, वो कहते हैं जिंदगी बड़ी होनी चाहिए, लंबी नहीं। और ये बात हमारे जहन पर बिजली की तरह गिरी जब एक ऐसे टैलेंटेड एक्टर हमें छोड़कर चले गए। इरफान खान साहब।’ आगे के वीडियो में कहते है- ‘इरफान खान जब भी पर्दे पर आते थे, हम सबको लगता था, ये मैं हूं। एक ऐसा चेहरा, जो अपना सा लगता था। एक ऐसी पर्सनैलिटी, जिसमें पावर भी था और प्यार भी।’

बाबिल को याद आते है पापा

इस वीडियो को देखने के बाद इरफान के बेटे बाबिल (Babil) रो पड़ते हैं तो राजकुमार भी अपने आंसू नहीं रोक पाते हैं। वहां मौजूद हर सेलेब की आंखों में नमी आ जाती है। आपो बता दें, बाबिल अपने पापा को काफी याद करतें है। वह इरफान के जाने के बाद कई पोस्ट शेयर कर यह बताने की कोशिश किए है। उनका इतना फूट फूट कर रोना देख कर सारे कलाकार की आंखे नम हो गई।

इसके बाद आयुष्मान कहते हैं, ‘कलाकारों का कभी अतीत नहीं होता, कभी वर्तमान नहीं होता। जब कोई कलाकार जाता है तो उसका हमेशा इस तरह से सम्मान नहीं होता, क्योंकि हर कोई फनकार इरफान नहीं होता।’ राजकुमार ये भी कहते हैं कि, ‘मैं ये कहना चाहता हूं कि बहुत कुछ सीखा है आपसे और जिंदगी भर सीखते रहेंगे। सिर्फ मैं ही नहीं, बल्कि आने वाली बहुत सारी जेनरेशन आपके काम को देखकर। थैंक्यू।’

यह भी पढ़ें

इसके बाद जब बाबिल स्टेज पर अपने पिता का अवॉर्ड लेने पहुंचते हैं तो राजकुमार उन्हें गले लगाकर संभालते हैं। बाबिल बोलते हैं- ‘मैंने कोई स्पीच तैयार नहीं की है। मैं बहुत बहुत ग्रेटफुल हूं कि आपने मुझे खुली बांहों से स्वीकार किया और ढेर सारा प्यार दिया। मैं ये कहना चाहता हूं कि हम इस सफर को साथ पूरा करेंगे। हम सिनेमा को नई ऊंचाइयों तक लेकर जाएंगे, डैड मैं आपसे ये वादा करता हूं।’

Related Articles

Back to top button