बगदादी ने IS के खिलाफ युद्ध करने वाले देशों को ललकारा

0

isis

दुबई। पुरी दुनिया में आतंकी संगठन आईएसआईएस ने अपना नेटवर्क फैला रखा है। इस आतंकी संगठन के मुखिया अबुबकर बगदादी ने एक नया वीडियो जारी किया है। इस वीडियो में बगदादी ने दावा किया है कि विभिन्न देशों की सेनाओं के हमलों ने उसे हिम्मत दी है।

हमलों ने बढ़ाया संकल्प
आतंकी संगठन के चीफ बगदादी ने 24 मिनट के वीडियो में कहा है कि अंतरराष्ट्रीय गठबंधन सेना के हमलों से सिर्फ आईएस का दृढ़ निश्चय और संकल्प ही बढ़ा है। मई के बाद अबुबकर बगदादी का यह पहला संदेश जारी हुआ है।

कई क्षेत्रों में कमजोर पड़ा IS
बगदादी का कहना है कि उसे हमलों ने ताकत दी लेकिन सच्चाई कुछ और ही है। सीरिया और इराक में हमलों की वजह से आईएस को कई क्षेत्रों से पीछे हटने पर मजबूर होना पड़ा। कमजोर पड़ रहे आईएस से इराक में सिंजर और सीरिया के सीमावर्ती क्षेत्रों को मुक्त करा लिया गया है। इराकी सेना ने साथ ही आईएस के कब्जे वाले इराक के अनबर प्रांत के रमादी शहर में अपनी बढ़त बना ली है। सीरिया में अमरीकी के नेतृत्व वाली गठबंधन सेना और रूसी सेना ने हवाई हमलों में सीरिया के तेल क्षेत्रों को नष्ट कर दिया, जो आईएस के लिए फंड जुटाने का अहम स्रोत था। साथ ही हाल ही के सप्ताह में आईएस के कई शीर्ष नेता भी मारे गए। इस बीच सीरिया में अमरीका समर्थित लड़ाकों ने आईएस के कब्जे से एक बांध को मुक्त करा लिया, जो आईएस के लिए एक महत्वपूर्ण आपूर्ति मार्ग था।

अमरीका से नहीं डरेंगे: बगदादी
बगदादी ने अपने संदेश में कहा है कि यह हमारे इस्लामिक देश के इतिहास में अभूतपूर्व है कि पूरी दुनिया हमारे खिलाफ एकजुट हो गई है। यह सभी मुस्लिमों के खिलाफ गैर मुस्लिमों की लड़ाई है। अमरीका के नेतृत्व वाला गठंबधन हमें डरा नहीं सकता और न ही हमारे संकल्प को तोड़ सकता है क्योंकि हम हर स्थिति में विजेता हैं। बगदादी ने जमीनी लड़ाई न लडऩे के लिए अमरीका पर हमला किया। उसने कहा कि उनके अंदर जमीन पर आने की हिम्मत नहीं है क्योंकि उनके दिल में हमारा भय है। अमरीका और उसके समर्थक हमारी खिलाफत को खत्म करने का सपना देख रहे हैं।

loading...
शेयर करें