डिजिटल रथ यात्रा निकालेगा इस्कॉन मंदिर, वर्चुअल पूजा-अर्चना के लिए करे रजिस्ट्रेशन

कोरोना वायरस महामारी के कारण यदि आप इस बार रथ यात्रा में शामिल नहीं हो पा रहे हैं तो चिंता ना करें। भक्त अपने घर बैठे ही भगवान जगन्नाथ, बलराम और सुभद्रा के न सिर्फ दर्शन कर सकेंगे बल्कि उनकी पूजा-अर्चना भी कर सकेंगे। यह दुनिया की पहली डिजिटल रथ यात्रा होगी।

बता दें कि कोलकाता में ईश्वर मायापुर के इस्कॉन मंदिर में डिजिटल (वर्चुअल) रथ यात्रा निकालने की तैयारी की जा रही है। बता दें कि इस अनूठी डिजिटल रथ यात्रा के लिए भक्त निशुक्ल रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। इस्कॉन मंदिर के मीडिया प्रभारी सुब्रत दास ने बताया कि डिजिटल यात्रा में दर्शन और पूजन के लिए भक्तों को www.mercyonwheel वेबसाइट पर जाकर अपना नाम रजिस्टर्ड कराना होगा।

बता दें कि रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया 22 जून तक ही चलेगी। रजिस्ट्रेशन कराने के दौरान भक्तों को एक यजमान कोड मिलेगा। इसके जरिए भक्त को एक निश्चित समय दिया जाएगा। इसी समय के दौरान भक्त खुद घर से ही भगवान के दर्शन व पूजन, आरती कर सकेंगे। जिन भक्तों का रजिस्ट्रेशन नहीं हो पाएगा, ऐसे भक्तों के लिए मंदिर प्रबंधन द्वारा यूट्यूब के माध्यम से रथ यात्रा देखने की सुविधा दी गई है। यहां ध्यान रखें कि दिए गए स्लॉट के माध्यम से यात्रा भक्तों के घरों तक जाएगी।

बहरहाल भक्तों को इस खास दिन का बहुत इंतजार रहता है और वे यात्रा के लिए कई दिनों पहले से भी तैयारियां करते हैं। लेकिन कोरोना वायरस संक्रमण की मौजूदा स्थिति के चलते तमाम स्थानोंं पर रथ यात्राओं को निरस्त किया जा रहा है। ऐसे में डिजिटल रथ यात्रा का आईडिया बहुत पसंद किया जा रहा है। फिलहाल सभी भक्त इस वर्चुअल रथ यात्रा का इंतजार कर रहे हैं।

Related Articles