आईटी डेपार्टमेंट ने महाराष्ट्र डिप्टी सीएम Ajit Pawar की प्रॉपर्टी की ज़ब्त

मुंबई : आयकर विभाग ने बेनामी संपत्ति लेनदेन अधिनियम, 1988 के निषेध के तहत महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम Ajit Pawar के परिवार से जुड़ी संपत्ति को अस्थायी रूप से अटैच किया है। इस कड़ी में चीनी कारखाना, गोवा में एक रिसॉर्ट, दिल्ली में एक पॉश इलाके में एक फ्लैट और दक्षिण मुंबई में निर्मल टॉवर में एक दफ्तर को अटैच किया है।

Ajit Pawar के परिवार की संपत्ति भी की अटैच

टैक्स एजेंसी ने 7 अक्टूबर को एक फर्म की तलाशी ली थी, जहां पवार के बेटे पार्थ डायरेक्टर हैं। पवार की बहनों के मालिकानी हक वाली कुछ फर्म्स, पवार से जुड़ी दो रियल एस्टेट फर्म और राज्य भर में चार चीनी मिलों के डायरेक्टर्स के परिसर कथित तौर पर अप्रत्यक्ष रूप से पवार परिवार से जुड़े हुए हैं। इसके बाद, 15 अक्टूबर को, IT डिपार्टमेंट ने कहा कि उसने अजीत पवार के परिवार से जुड़े मुंबई में दो रियल एस्टेट ग्रुप्स के परिसरों की तलाशी के बाद 184 करोड़ रुपए की बेहिसाब आय का पता लगाया है।

आयकर विभाग ने महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजीत पवार को बेनामी संपत्ति के मामले में नोटिस भी भेजा है। एक मराठी न्यूज चैनल के मुताबिक अजीत पवार की करोड़ों की संपत्ति पर आयकर विभाग द्वारा कार्रवाई शुरू की गई है।

दरअसल बीजेपी नेता किरीट सोमैया की तरफ से राज्य के उपमुख्यमंत्री समेत पवार परिवार पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाने के अगले दिन आयकर विभाग ने अजीत पवार को नोटिस भेजा है। आयकर विभाग की ओर से भेजा गया नोटिस ठाकरे सरकार के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है।

यह भी पढ़ें : Mumbai High और Bassein में 60 फीसदी हिस्सेदारी विदेशी कंपनियों को दें : पेट्रोलियम मिनस्ट्री

Related Articles