बॉर्डर पर चीन से मुकाबला करेंगी महिला सैनिक

0

डीडीहाट (पिथौरागढ़)। देश की सुरक्षा में महिलाएं एक बार फिर अहम जिम्मेदारी निभाने जा रही हैं। भारत-तिब्बत सीमा पुलिस यानी ITBP की महिला जवानों की टुकड़ी पहली बार साढ़े 10 हजार फिट की ऊंचाई पर गुंजी में तैनात की गई है। 14 जवानों की यह टुकड़ी अंतिम भारतीय पड़ाव नाबीढांग तक कांबिंग कर रही है। चीन सीमा पर पहुंचने वाली पहली महिला जवानों की टुकड़ी का नेतृत्व देहरादून की रहने वाली अनीता चौधरी कर रही हैं। ITBP ने बीते दिनों चीन सीमा पर महिला जवानों की तैनाती की है। 7वीं वाहिनी भारत-तिब्बत सीमा पुलिस की पहली महिला जवानों की टुकड़ी भारत चीन सीमा की अग्रिम चौकियों पर तैनात हो चुकी है। 14 सदस्यीय महिला जवानों का दल एक मार्च को चीन सीमा पर स्थित साढ़े 10 हजार फिट की ऊंचाई पर स्थित गुंजी चौकी के लिए रवाना हुआ।

ये भी पढ़ें – भूमि फर्जीवाड़ा : आईटीबीपी की जमीन बेचने वालों पर मुकदमा दर्ज

itbp 1

ITBP की महिला टुकड़ी कर रही कांबिंग

गुंजी पहुंचने के बाद ITBP के इस दल ने गुंजी से लेकर अंतिम भारतीय पड़ाव नाबीढांग तक की कांबिंग भी शुरू कर दी है। सैन्य सूत्रों ने बताया कि पहली बार अग्रिम चौकियों पर महिला जवानों की तैनाती की गयी है। कैलास मानसरोवर यात्रा मार्ग में व्यास घाटी के गुंजी में एक एसआइ के नेतृत्व में 14 महिला जवान सीमा की निगरानी कर रही हैं। सैन्य सूत्रों का ये भी कहना है कि महिला जवानों की यह टुकड़ी इस समय साढ़े 10 हजार फिट से लेकर 15 हजार फिट तक चीन सीमा पर नियमित कांबिंग कर रही है। यह दल गुंजी से लेकर कालापानी, नाबीढांग तक कांबिंग कर रहा है।

महिला दल की सभी जवान स्वस्थ

सैन्य सूत्रों ने बताया कि पहली बार इतनी ज्यादा ऊंचाई पर पहुंची महिला जवान पूरी तरह स्वस्थ और सकुशल हैं। उन्होंने ये जानकारी भी दी कि इस समय गुंजी में दो फिट, कालापानी में तीन फिट और नाबीढांग में छह फिट से ज्यादा बर्फ जमी है। इसके बाद भी महिला जवान पूरी मुस्तैदी से ड्यूटी दे रही हैं। पहली बार सीमा छोर में तैनात महिलाओं का यहां पर पूर्व से तैनात हिमवीर मार्ग दर्शन कर रहे हैं। और जल्द ही महिला जवानों का दूसरा दल भी अग्रिम चौकियों के लिए रवाना होगा।

loading...
शेयर करें