शास्त्रीय नृत्य, संगीत वाद्ययंत्र, रंगमंच और फिटनेस के गुर सिखाने वाले जेएआई मंच का हुआ उद्धाटन

0

नई दिल्ली। शास्त्रीय नृत्य, संगीत वाद्ययंत्र, रंगमंच और फिटनेस के गुर सिखाने वाले मंच, जिंदल कला संस्था (जेएआई) का यहां उद्घाटन हुआ। इस मौके पर समारोह को संबोधित करते हुए प्रसिद्ध कुचिपुड़ी नर्तकी शालू जिंदल ने कहा “संस्थान का उद्देश्य विभिन्न नृत्य की विधाओं तक पहुंच स्थापित कर इस समृद्ध कलात्मक विरासत को भारत और दुनिया के दूर-दराज इलाकों तक फैलाना है।”

कला में रुचि रखने वालों को संस्थान में कुचिपुड़ी, कत्थक, साल्सा, बैले, जुम्बा, योग, वोकल म्यूजिक, पियानो, गिटार, तबला, बांसुरी, और रंगमंच सहित कई विधाएं सिखाईं जाएंगी।

उद्घाटन संबोधन में शालू जिंदल ने कहा कि यह पहल कलाकारों के लिए सलाम है और संस्थान भारतीय और अंतर्राष्ट्रीय कलाकारों दोनों के साथ सहयोग कर देश की प्रतिभा को निखारेगी। इस मौके पर कई नृत्य प्रस्तुतियां भी पेश की गईं।

उद्धाटन समारोह में राज्यसभा सांसद रघुनाथ महापात्रा के साथ जिंदल स्टील एंड पॉवर (जेएसपीएल) की पूर्व अध्यक्ष सावित्री जिंदल और जेएसपीएल के अध्यक्ष नवीन जिंदल शामिल हुए।

loading...
शेयर करें