कश्मीर में जैश-ए-मोहम्मद की नापाक नजर, तालिबान की मदद से करना चाहता है बर्बाद

जम्मू-कश्मीर: जम्मू-कश्मीर में आतंक फैलाने के लोई एक बार फिर से बड़ी साजिश रची जा रही है। अफगान में तालिबान के आतंक से खुश हुआ पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) का सरगना मसूद अजहर (Masood Azhar) अब तालिबान की मदद से कश्मीर में आतंक फैलाने की साजिश में लगा हुआ है।

खबरों के मुताबिक, मसूद अजहर ने अभी कुछ दिनों पहले कांधार जाकर तालिबान से मुलाकात करके उनसे कश्मीर में गतिविधियां बढ़ाने के लिए सहयोग मांगा था। आपको बता दें कि ये वही मसूद अजहर है जिसने 26 नवंबर 2008 को मुंबई में आतंकी हमला करने वाला का मास्टरमाइंड है।

तालिबान के हेड से मुलाकात

खबरों में पता चला है कि तालिबान के जिन नेताओं से मसूद अजहर ने मुलाकात की है उनमें अब्दुल गनी बरादर भी शामिल है। बरादर तालिबान के राजनीतिक धड़े का हेड है। आपको बता दें कि काबुल पर कब्जे से ठीक पहले मसूद अजहर ने तालिबान की प्रशंसा की थी। उनसे कहा था कि तालिबान ने अमेरिका समर्थित अफगान सरकार को गिरा दिया है। ‘मंजिल की तरफ’ शीर्षक से लिखे एक लेख में कहा था कि मुजाहिदीनों की जीत खुशी पैदा करने वाली है।

Pok में तालिबान के समर्थन में रैली

जैश-ए-मोहम्मद के कमांडरों ने अफगानिस्तान में तालिबान की जीत पर एक दूसरे बधाइयां भी दी थीं। इसके अलावा आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा और जैश ए मोहम्मद ने पाक अधिकृत कश्मीर Pok में तालिबान के समर्थन में रैली भी की थी। इस रैली का वीडियो वायरल हुआ था जिसमे अफगानिस्तान में तालिबान की जीत का जश्न मनाते दिखाई दे रहे थे।

Related Articles