शुरु हो गई जंग, सरकार बनने के 5 दिनों बाद ही आपस में भिड़ी जेडीएस-कांग्रेस

नई दिल्ली। कर्नाटक में सरकार बनने के बाद फिर एक नया नाटक शुरु हो चुका है। सीएम कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह के महज 5 दिनों बाद ही जेडीएस-कांग्रेस आपस में भिड गई हैं। यह खींचतान प्रमुख मंत्रालयों को अपने पाले में रखने को लेकर मची हुई है। सूत्रों के मुताबकि वित्त मंत्रालय कुमारस्वामी अपने पास ही रखना चाहते हैं, जबकि कांग्रेस वित्त समेत कई अहम मंत्रालयों पर अपना अधिकार चाहती है।

कांग्रेस के प्रमुख नेताओं से मिलने दिल्ली पहुंचे कुमारस्वामी
मंत्रालय बंटवारे को लेकर मची खीचतान को लेकर आज कुमारस्वामी दिल्ली पहुंचे हैं। जबकि इस अहम मौके पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी विदेश रवाना हो चुके हैं। अपनी मां सोनिया गांधी के इलाज के लिए फिलहाल राहुल देश से बाहर हैं। ऐसे में कुमारस्वामी कांग्रेस के अन्य प्रमुख नेताओं से मुलाकात करेंगे।

कर्नाटक में पार्टी मामलों के प्रभारी वेणुगोपाल ने मामले पर बयान देते हुए कहा कि एक गठबंधन में कुछ मुद्दे होते हैं। हम इन पर एक-दूसरे से चर्चा कर रहे हैं। इसका समाधान तत्काल ढूंढ लिया जाएगा। मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी ने खुद स्वीकार किया था कि गठबंधन साझेदार के साथ विभागों के बंटवारे को लेकर कुछ मुद्दे हैं।

कांग्रेस और जेडीएस के बीच वित्त, गृह, लोकनिर्माण विभाग व ऊर्जा, सिंचाई और शहरी विकास जैसे प्रमुख विभागों को लेकर खींचतान चल रही है।

मामले को लेकर दिल्ली में कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद के घर पर बैठक हुई। इस मीटिंग में कुमारस्वामी समेत मल्लिकार्जुन खड़गे, सिद्वारमैया समेत अन्य प्रमुख नेता उपस्थित रहे। इस बैठक में हुई बातचीत के बाद मामले का कोई सकारात्मक हल निकलने की उम्मीद जताई जा रही है।

Related Articles