कृषि कानून के विरोध में “जाट” आज से तीन दिवसीय भूख हड़ताल पर

जयपुर, किसान आंदोलन के समर्थन में हरियाणा सीमा पर पड़ाव डाल रखा किसानों का नेतृत्व कर रहे किसान महापंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामपाल जाट आन्दोलन के परिपेक्ष्य में केंद्र सरकार द्वारा सकारात्मक रुख नहीं अपनाने के कारण कल सोमवार से तीन दिन के लिए अंत:करण की शुद्धि के लिए उपवास पर रहेंगे।

रामपाल जाट ने बताया कि केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर द्वारा किसानों को संबोधित पत्र का उत्तर भेजने के एक सप्ताह बाद भी सकारात्मकता नहीं आने के कारण ही उपवास किया जा रहा है I जबकि लिखित उत्तर के पत्र में उपवास के सम्बन्ध में सरकार को सूचित भी किया गया था I यह उपवास स्वयं तथा केंद्र सरकार के अंत:करण की शुद्धि के लिए रखा जायेगा जिसमें “सबको सन्मति दे

कृषि कानून को लेकर पहले भी उपवास रख चुके जाट

उन्होंने कहा कि कृषि मंत्री तोमर द्वारा किसानो के नाम प्रसारित पत्र में जिस प्रकार के तथ्य, शब्दों एवं भाषा का आरोप-प्रत्यारोप के लिए उपयोग किया गया है I उससे समाधान की दिशा में अवरोध उत्पन्न हो रहे है, वहीं कटुता पनपने की संभावना बढ़ रही है जबकि देश की खुशहाली के लिए सौहार्द एवं सद्भाव की आवश्यकता है I उन्होंने बताया कि इससे पहले भी गत 14 दिसंबर को एक दिन का उपवास रखा गया जिसमें प्रात: से सांय पांच बजे तक पानी भी ग्रहण नहीं किया गया था I

इसे भी पढ़े: वाहनों पर जाति या बिरादरी लिखने वाले हो जाए सावधान! नियमों के उलंघन पर कटेगा चालान

Related Articles