अभी-अभी : नीतीश और मोदी आमने-सामने, जेडीयू ने किया ऐलान – हम अकेले लड़ेंगे चुनाव

0

पटना। बीते दिनों बिहार में लालू यादव के साथ गठबंधन तोड़कर नीतीश कुमार ने बीजेपी के साथ मिलकर सरकार बना ली थी। इतना ही नहीं नीतीश ने जेडीयू पार्टी को बीजेपी नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में भी शामिल कर लिया था। लेकिन गुजरात में बिहार वाला गठबंधन नहीं दिखाई दे रहा है। बिहार में भाजपा के साथ सरकार चला रही जेडीयू ने ऐलान किया है कि वह गुजरात विधानसभा चुनाव में 50 से ज्यादा उम्मीदवार उतारेगी।

यह भी पढ़ें : 2019 लोकसभा चुनाव में अगर कांग्रेस की हुई जीत, तो राहुल नहीं ये बनेंगे प्रधानमंत्री!

जेडीयू ने गुजरात चुनाव को लेकर किया ये बड़ा ऐलान

जेडीयू के प्रवक्ता और महासचिव क़े सी़ त्यागी ने मंगलवार को बताया कि इस निर्णय का कोई अलग मतलब नहीं निकालना चाहिए। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी जेडीयू गुजरात में चुनाव लड़ चुकी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस द्वारा पाटीदार समुदाय के लोगों को चार सीटें दी गई हैं, जिससे पाटीदार समुदाय के लोग कांग्रेस से नाराज हैं।

यह भी पढ़ें : गुजरात चुनाव में हार्दिक करने जा रहे हैं ये सबसे बड़ा ऐलान, राहुल भी हो जाएंगे हैरान

नीतीश ने पाटीदार आरक्षण का समर्थन किया था

उन्होंने दावा करते हुए कहा कि कई पाटीदार नेता वहां के जेडीयू प्रदेश अध्यक्ष से इस मसले को लेकर मुलाकात कर चुके हैं। त्यागी ने यह भी कहा कि नीतीश कुमार पहले ऐसे नेता हैं जिन्होंने पाटीदार आरक्षण का समर्थन किया था। त्यागी का दावा है कि कांग्रेस ने शरद यादव खेमे को भी सिर्फ दो सीट दी है, जिस कारण उस गुट में भी नाराजगी है।

यह भी पढ़ें : कांग्रेस के बड़े नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री का निधन, गम में डूबा पूरा देश

गुजरात जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष ने की नीतीश से मुलाकात

बता दें कि गुजरात जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष जयंती भाई पटेल ने सोमवार को नीतीश कुमार से मुलाकात की थी। इस मुलाकात के दौरान पार्टी ने 50 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने का फैसला लिया है। पिछले विधानसभा चुनाव में भी जदयू ने करीब 50 सीटों पर चुनाव लड़ा था।

loading...
शेयर करें