एनडीए से अलग हो जाएगी जेडीयू? नीतीश कुमार ने खुद किया सबसे बड़ा ऐलान

नीतीश कुमारनई दिल्‍ली। बीते कई दिनों से बिहार की राजनीति में हलचल मची हुई है। दरअसल अब तक आई खबरों की मानी जाए तो बीजेपी और जेडीयू में सबकुछ ठीक नहीं है। इसको लेकर बातें यहां तक थीं कि नीतीश कुमार एनडीए से अलग भी हो सकते हैं। लेकिर आज दिल्‍ली में हुई जेडीयू की राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद इन सभी खबरों पर खुद नीतीश कुमार ने विराम लगा दिया है।

दरअसल नीतीश कुमार ने स्‍पष्‍ट कर दिया है कि उनकी पार्टी एनडीए का हिस्‍सा बनी रहेगी। इसके साथ ही उन्‍होंने यह भी स्‍पष्‍ट कर दिया कि वह 2019 का लोकसभा चुनाव बीजेपी के साथ मिलकर ही लड़ेंगे। नीतीश कुमार की पार्टी की अहम बैठक के बाद एक फार्मूला भी सामने आया है। इसमें अगले लोकसभा चुनाव में बीजेपी-जेडीयू को 17-17 सीटों पर लड़ने की बात कही गई है, जबकि एनडीए के बिहार में अन्‍य दो सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी और राष्‍ट्रीय लोक समता पार्टी को 6 सीटें देने पर सहमति बन सकती है।

नीतीश कुमार ने पार्टी की बैठक के दौरान कहा कि जब वह आरजेडी के साथ सरकार में थे तो उनपर तरह-तरह के कमेंट किए जाते थे, लेकिन बीजेपी ने ऐसा कभी नहीं किया। नीतीश ने इस बात का भी जिक्र किया कि 2014 लोकसभा चुनाव के दौरान मोदी लहर में बीजेपी ने भले ही 22 सीटें जीती हों, लेकिन हमने अपने 17 साल पुराने दोस्त से एक बार फिर हाथ मिलाया है, ऐसे में हर किसी को बलिदान के लिए तैयार रहना चाहिए।

वहीं दूसरी तरफ बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह 12 जुलाई को पटना आ रहे हैं। उनके आने से पहले नीतीश कुमार ने स्‍पष्‍ट कर दिया है कि वह एनडीए में बने रहने को तैयार हैं, लेकिन इसके लिए बीजेपी को भी उनकी कुछ शर्तें माननी होंगी।

Related Articles