झांसी: सपेरे की मौत के विरोध में सपेरों ने थाने में बीन बजाकर किया विरोध प्रदर्शन

थाने मे पिछले नौ दिन से मुकदमा नहीं लिखे जाने से परेशान कई सपेरे थाने में पहुंच गये और विरोध जताते हुए एक साथ बीन बजानी शुरू कर दी, बीन की आवाज सुनकर लोगों का जमावड़ा वहां लग गया।

झांसी: उत्तर प्रदेश में झांसी के टहरौली थाने में एक सपेरे की मौत के बाद मुकदमा नहीं लिखे जाने के विरोध में मंगलवार को कई सपेरों ने बीन बजाकर अनोखा विरोध प्रदर्शन किया।

मुकदमा न लिखे जाने पर सपेरे ने थाने में बीन बजाना शुरू किया

थाने मे पिछले नौ दिन से मुकदमा नहीं लिखे जाने से परेशान कई सपेरे थाने में पहुंच गये और विरोध जताते हुए एक साथ बीन बजानी शुरू कर दी, बीन की आवाज सुनकर लोगों का जमावड़ा वहां लग गया। थाने में लोगों का जमावड़ा लगता देख थाना प्रभारी अपनी सफाई में जांच की बात करते नजर आए।

मृत्यु हो जाने के बाद शव को सड़क पर फेंक दिया गया

बीते 15 नवम्बर को दोपहर में ग्राम बंगरा थानाक्षेत्र टहरौली निवासी एक व्यक्ति और उसका पुत्र ग्राम दिनेरी निवासी होशियार नाथ और पप्पू नाथ के चचेरे भाई को उसके खेत से बाग में सांप पकड़वाने जबरन ले गए थे। विषैले सर्प द्वारा उनके चचेरे भाई हिसाबी नाथ को काट लिया गया जिसके बाद उक्त लोगों द्वारा हिसाबी नाथ का कोई भी इलाज नहीं करवाया गया। उन्होंने आरोप लगाया कि हिसाबी नाथ की मृत्यु हो जाने के बाद ग्राम बंगरा निवासी दोनों पिता पुत्र हिसाबी नाथ के शव को सड़क पर फेंक कर भाग गये। सर्प दंश से मृत हिसाबी नाथ के चचेरे भाई होशियार नाथ और पप्पू नाथ ने कहा कि घटना के 8 दिन बीत जाने के बाद भी आजतक कोई कार्यवाही नहीं हुयी है। पुलिस मामले में ढिलाई बरत रही है। इसी के चलते उन्हें आज इस प्रकार का विरोध प्रदर्शन करने पर मजबूर होना पड़ा।

शिकायती पत्र देने वालों में नाथ जाति के राजू नाथ पिपरा, पप्पू नाथ सपेरा, राजेंद्र नाथ, महेश नाथ, राकेश नाथ, माशूक नाथ पिपरा, होशियार नाथ दिनेरी, बृजनाथ सपेरा, मानसिंह नाथ, सूरज नाथ, राकेश नाथ, रमेश नाथ, अशोक नाथ, प्रकाश नाथ, रेशम नाथ, नफेल नाथ, छोटू नाथ, कलावती दिनेरी, लड़कुवार नाथ, लालवती, जाशोदा दिनेरी, रघुवीर नाथ, मनोज नाथ आदि सपेरा जाति के लोग मौजूद रहे।

इस मामले में थाना प्रभारी टहरौली देवेश शुक्ला ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। शीघ्र ही मामला दर्ज किया जायेगा जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कठोर कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

यह भी पढ़े: इंडोनेशिया में पिछले 24 घंटे में आये कोरोना संक्रमण के 4,192 नये मामले

Related Articles

Back to top button