झारखंड में बुराड़ी कांड, एक ही परिवार के 7 लोगों के शव मिले

रांची: झारखंड की राजधानी रांची से दिल्ली के बुराड़ी कांड जैसा मामला सामने आया है। यहां एक ही परिवार के सात लोगों ने रहस्यमयी परिस्थियों में शव मिला है। मृत लोगों में दो बच्चे हैं। पुलिस ने पृथम दृष्टया आत्महत्या की आशंकी जाहिर की है। रांची के एसएसपी अनीश कुमार गुप्ता ने बताया कि मृतक का परिवार कर्ज में डूबा था। इस सनसनीखेज वारदात की सूचना मिलते ही पुलिस के साथ ही फारेंसिक टीम और क्राइम ब्रांच भी मौके पर पहुंच गया है। पुलिस ने छानबीन शुरु कर दी है।

मिली जानकारी के मुताबिक, मामला कांके प्रखंड के बोड़ेया के अरसंडे स्थित कोल्ड स्टोरेज के पास का है। यहां बिहार के एक परिवार किराए के मकान में रहता था। परिवार में सात लोग थे। सभी की रहस्यमय परिस्थियों में लाश मिली है। जिसमें दो बच्चे भी शामिल हैं। इनमें एक बच्ची की उम्र 4-5 साल, जबकि बेटे की उम्र एक साल से कुछ ज्यादा है। फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (एफएसएल) और अपराध अनुसंधान विभाग (CID) की टीम मामले की जांच के लिए मौका-ए-वारदात पर पहुंच गयी है।

एसएसपी श्री गुप्ता ने कहा कि प्रथम दृष्ट्या यह आत्महत्या का मामला दिख रहा है। फॉरेंसिक साइंस की टीम के आने के बाद पता चलेगा कि इनकी मौत कैसे हुई। हालांकि, एक व्यक्ति का शव फांसी के फंदे से लटका मिला। बाकी लोग बिस्तर पर पड़े थे। मृतकों की पहचान सच्चिदानंद झा, उनके पुत्र दीपक झा, रुपेश झा, दीपक की पत्नी सोनी देवी और दो बच्चों दृष्टि और जंगू के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि पांच लोगों को जहर दिया गया, जबकि दो लोगों ने फांसी लगा ली।

स्थानीय लोगों का कहना है कि पूरे परिवार का इस तरह से एक साथ शव मिलने का कारण समझ से परे है। लोगों का कहना है कि परिवार लोवर मीडिल क्लास का है और किसी से किसी तरह का कोई विवाद भी नहीं था। ऐसे में परिवार ने आत्महत्या की या उनकी हत्या की गई यह कह पाना फिलहाल मुश्किल है।

गौरतलब हो कि दिल्ली के बुराड़ी में भी एक ही परिवार के 11 लोगों के शव मिले थे। हालांकि छानबीन में पुलिस को सुसाइड नोट मिला था। जिसमें तंत्र मंत्र के चलते परिवार के आत्महत्या करने की बात सामने आई थी।

Related Articles