झुनझुनवाला की Akasa एयरलाइंस को मिली सरकार की मंजूरी

नई दिल्ली : राकेश झुनझुनवाला की Akasa एयरलाइंस को सिविल एविएशन मिनिस्ट्री से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट मिल गया है। इस कड़ी में मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यह ब्रांड नेम अकासा के तहत उड़ान भरेगा और जेट एयरवेज के फॉर्मर सीईओ विनय दुबे इसके पहले सीईओ होंगे।

Akasa अगले साल से भरेगी उड़ान

रिपोर्ट के मुताबिक अगले साल के मध्य से इसकी उड़ानें शुरू हो जाएंगी। इस कड़ी में विनय ने अपने बयान में कहा, “हम नागरिक उड्डयन मंत्रालय को उनके समर्थन और एनओसी देने के लिए बेहद खुश और आभारी हैं। हम इस एयरलाइन को सफलतापूर्वक लॉन्च करने के लिए जरूरी सभी अतिरिक्त अनुपालनों पर रेगुलेटरी अथॉरिटी के साथ काम करना जारी रखेंगे।” रिपोर्ट्स के मुताबिक विमान खरीदने के लिए अकासा एयर बोईंग और एयरबस से बातचीत कर रही है। इससे पहले 28 जुलाई को, रिपोर्टें सामने आईं कि झुनझुनवाला चार साल में एक नए एयरलाइन वेंचर के लिए सत्तर विमान रखने की योजना बना रहे थे, जिसे उन्होंने वापस लेने का फैसला किया है।

रिपोर्ट के मुताबिक झुनझुनवाला के पास नई एयरलाइन में लगभग चालीस प्रतिशत हिस्सेदारी होने की उम्मीद है और उन्होंने इस वेंचर में पैतीस मिलियन डॉलर का निवेश किया हैं।

यह भी पढ़ें : बेंगलुरु से 7 बच्चे हुए लापता, लेटर में लिखा अच्छा नाम और पैसा कमाकर लौटेंगे घर

Related Articles