JNU के बाद अब दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर पर लगा छेड़खानी का आरोप

नई दिल्ली। जेएनयू के बाद अब दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) के एक प्रोफ़ेसर पर छेड़खानी और अभद्र व्यवहार का आरोप लगा है। इन आरोपों के साथ सोमवार को छात्रों ने प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे छात्रों की मांग है की केमेस्ट्री डिपार्टमेंट के विभागाध्यक्ष प्रो. रमेश चंद्रा को तत्काल पद से हटाया जाना चाहिए।

delhi university

छात्रों ने बताया कि प्रो. रमेश चंद्रा के खिलाफ जुलाई 2016 में एक छात्रा ने अश्लील व्यवहार करने का आरोप लगाया था और उसने दिसंबर में डीयू के छात्रसंघ उपाध्यक्ष कुणाल सहरावत से इसकी शिकायत भी की थी। लेकिन प्रशासन से निकटता के कारण चंद्रा के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई।

नाम न जाहिर करने की शर्त पर एक छात्र ने बताया कि प्रो. रमेश चंद्रा हमेशा लड़कियों से दोहरी भाषा में बात करते हैं। छात्रों ने विभागाध्यक्ष को पद से मुक्त करने की मांग की है। इस संदर्भ में छात्रों ने डीयू प्रशासन को ई-मेल कर लिखा है कि यूजीसी और डीयू के नियम के अनुसार, यौन प्रताड़ना के दो मामले होने के कारण जांच के दौरान विभागाध्यक्ष पद पर नहीं रह सकते हैं। विश्वविद्यालय के छात्र होने के कारण हम यह अपील करते हैं कि आप इस मामले में संज्ञान लें।

गौरतलब है कि फेसबुक पर विभागाध्यक्ष प्रो. रमेश चंद्रा द्वारा पूर्व विभागाध्यक्ष प्रो. गुरमीत सिंह के समक्ष अभद्र तरीके से पेश आने और जूता निकालकर तानने का वीडियो शिक्षक व छात्रों के बीच वायरल हो रहा है।

Related Articles