JNU मुद्दे को सफाई से ऐसे टाल गये अखिलेश

0

सासनी/हाथरस।  JNU मुद्दे इन दिनों राष्ट्रीय फलक पर छाया हुआ है। हर तरफ उसी की चर्चा है। ऐसे में युवा मुख्यमंत्री की का कमेंट भी महत्व रखता है। यही सोचकर सवाल आया। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने जेएनयू के मुद्दे पर कुछ बोलने से कतराते हुए कहा कि इस मुद्दे पर बुद्धजीवियों को बहस करने दें।

JNU मुद्दे पर अखिलेश खामोश

JNU मुद्देवह गुरुवार को अलीगढ़ रोड स्थित डीपीएस में जैन समाज के नागरिक अभिनंदन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि आए थे। इस दौरान जेएनयू मुद्दे पर सवाल आया तो अखि‍लेश ने ज्वलंतशील JNU मुद्दे को टालते हुए कहा कि यूपी में और भी बहुत से मुद्दे और सवाल हैं। इस मुद्दे पर तो बहुत से बुद्ध‍िजीवी हैं जो बहस कर रहे हैं। उनके JNU मुद्दे को टाल देने से कई चर्चाएं शुरू हो गयी हैं। उनकी खामोशी कई सवाल छोड़ गयी है।

इस मौके पर माध्यमिक शिक्षा मंत्री बलराम यादव सहित अन्य पार्टी के नेता भी मौजूद थे। हालांकि, जिले से भी बहुत से नेता और कार्यकर्ताओं में सहभागिता कर अपने नंबर बढ़ाने की कोशिश की। जबकि, दूसरी ओर सपा छात्र सभा सहित अन्य लोगों ने भी अपनी समस्याओं को बतौर प्रार्थना-पत्रों के रूप में उनको थमाया। बता दें कि नागरिक अभिनंदन मुलायम सिंह यादव का होना था, लेकिन कुछ कारणों कके चलते सीएम अखिलेश यादव ने इस सम्मान को ग्रहण किया।

loading...
शेयर करें