मध्य प्रदेश की नौकरियां स्थानीय युवाओं के लियें होगी रिजर्व,शिवराज सिंह का बड़ा फैसला

भोपाल: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक वीडिओ जारी कर के जानकारी दी है,कि अब मध्य प्रदेश सरकार की किसी भी नौकरी में राज्य से बाहर के लोगों को मौका नहीं दिया जायेगा.इसके लिए जो भी जरूरी कानूनी बदलाव हैं जल्द ही पेश किये जायेंगे.शिवराज ने कहा है की जल्द ही आवश्यक कार्यवायी की जायेगी.जिससे मध्य प्रदेश के संसाधनों पर वहां के ही बच्चों का हक हो.

मुख्यमंत्री शिवराज ने यह भी कहा कि मध्यप्रदेश के युवाओं का भविष्य ‘बेरोजगारी भत्ते’ की बैसाखी पर टिका रहे यह हमारा लक्ष्य ना कभी था और ना ही है। जो यहां का मूल निवासी है वही शासकीय नौकरियों में आकर प्रदेश का भविष्य संवारे यही मेरा सपना है। मेरे बच्चों, खूब पढ़ो और फिर सरकार में शामिल होकर प्रदेश का भविष्य गढ़ो।

ट्विट कर वी. डी. शर्मा ने की तारीफ

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्ता शर्मा ने इस फैसले का स्वागत किया है.उन्होंने शिवराज सिंह की तारीफ करते हुए कहा कि आपकी (शिवराज सिंह चौहान) इस सोच पर हम सभी को गर्व है। प्रदेश के युवा को प्रदेश के विकास में शामिल करने की यह पहल फिर से एक स्वर्णिम मध्यप्रदेश की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

प्रदेश में होने वाला है उपचुनाव

दरसल मध्य प्रदेश में जल्द ही उपचुनाव होने वाले हैं.ऐसे में मुख्यमंत्री और भी कई लोकलुभावन वादे कर रहे हैं. इससे पहले सीएम शिवराज ने  आदिवासियों को साहुकारों के चुंगल के बचाने के लिए नया कानून बनाने की बात कही थी.इससे पहले ही कमलनाथ सरकार ने उद्योगों में 70 फीसदी रोजगार स्थानीय लोगों के लिए रिजर्व कर दिया था.कमलनाथ सरकार ने नया नियम बनाया था.इसके तहत उद्योग धंधे किसी भी सरकारी योजना या टैक्स में छूट का लाभ तभी उठा सकते हैं जब उन उद्योगों में काम करने वाले 70 प्रतिशत लोग राज्य के ही हों.

Related Articles