बलरामपुर में पत्रकार और उसके साथी की आग में झुलसकर मौत, हत्या का आरोप

आग की तेज लपटों की वजह से पत्रकार के साथ उनके दोस्त की झुलसकर मौत हो गई। घटना की सूचना मिलते ही एम्बुलेंस व स्थानीय पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे तो देखा की एक युवक बुरी तरह से झुलस चूका था जबकि पत्रकार 90 प्रतिशत जल चूका था।

बलरामपुर: यूपी के बलरामपुर से दिल दहला देने वाली खबर आ रही है कि यहां के कोतवाली देहात क्षेत्र के कलवारी गांव में एक पत्रकार के घर में संदिग्ध परिस्थितियों में भीषड़ आग लग गई। आग की तेज लपटों की वजह से पत्रकार के साथ उनके दोस्त की झुलसकर मौत हो गई। घटना की सूचना मिलते ही एम्बुलेंस व स्थानीय पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे तो देखा की एक युवक बुरी तरह से झुलस चूका था जबकि पत्रकार 90 प्रतिशत जल चूका था। दोनों को संयुक्त अस्‍पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने पत्रकार के साथी पिन्टू साहू (32) को मृत घोषित कर दिया जबकि 90 प्रतिशत झुलस चुके पत्रकार राकेश सिंह (35) को इलाज के लिए लखनऊ रेफर कर दिया जहां सिविल अस्‍पताल में उनकी भी मौत हो गयी।

पत्रकार राकेश सिंह ने दम तोड़ने से पहले अपने बयान में घटना के बारे में बताया कि दबंगों ने उनके घर में आग लगाकर जिंदा जलाने का प्रयास किया है। उन्होंने बताया कि कोतवाली देहात क्षेत्र के कलवारी गांव में दबंगों ने शुक्रवार रात उनके घर में घुसकर आग लगाई है। गंभीर रूप से झुलसे पत्रकार ने बताया कि कुछ नकाबपोश उनके घर में दाखिल हुए थे और पहले मारपीट के बाद घर में आग लगा दी। आग लगाए जाने के बाद बेडरूम और किचन का हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया और दीवार टूट कर गिर गई।

पत्रकार राकेश सिंह के मकान में भीषण आग

पुलिस ने बताया कि पत्रकार राकेश सिंह के मकान में भीषण आग से मकान का एक हिस्सा क्षतिग्रस्त होने की सुचना शुक्रवार की रात लगभग 11:30 बजे मिली। मौके पर पुलिस और फायर ब्रिगेड पहुंची और घर में लगे आग पर कड़ी मशक्क्त के बाद दमकल कर्मियों ने आग पर काबू पाया। आग बुझने के बाद एक युवक का शव जलकर राख हो चुका था। पत्रकार राकेश सिंह निर्भीक जलने के कारण गंभीर रूप से घायल हो गए थे। घायल राकेश सिंह को पुलिस ने जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने उसे ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया है।

ये भी पढ़े : लखनऊ में कल से शराब की दुकानें रहेंगी बंद, 48 घंटे बाद लड़ेंगे जाम

मित्र पिन्टू साहू की मृत्यु

पुलिस अधीक्षक देव रंजन वर्मा ने इस मामले पर बताया कि पत्रकार राकेश सिंह एक दैनिक अखबार में काम करते थे और यूट्यूब पर स्वतंत्र पत्रकारिता भी करते थे। उनके घर में आग लग लगने की वजह से उनके मित्र पिन्टू साहू की मृत्यु हो गई। पत्रकार राकेश सिंह व उनके एक मित्र पिन्टू साहू घर में मौजूद थे, जबकि राकेश की पत्नी व बच्चे दो दिन पहले हुए घरेलू झगड़े के चलते घर से किसी रिश्तेदार के यहां चले गए थे। उन्होंने बताया कि बीती शुक्रवार की देर रात राकेश के घर में तेज धमाका हुआ, जिससे घर के दाएं तरफ की दीवार गिर गयी और तब लोगो को घटना की जानकारी हुई।

ये भी पढ़े : अस्पताल अग्निकांड की न्यायिक जांच के आदेश, पिछले एक साल में आधा दर्जन अग्निकांडों में 70 की मौत

हत्या की आशंका

90 प्रतिशत जलने के कारण राकेश सिंह को लखनऊ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उन्‍होंने दम तोड़ दिया। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि फोरेंसिक टीम की मदद से जांच पड़ताल की जा रही हैं, आगे विधिक कार्रवाई करेंगें। उन्होंने बताया कि इस घटना के मामले में दो संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. वहीं, पत्रकार के पिता मुन्ना सिंह ने हत्या की आशंका जताते हुए कार्रवाई की मांग की है।

Related Articles

Back to top button