अस्पताल अग्निकांड की न्यायिक जांच के आदेश, पिछले एक साल में आधा दर्जन अग्निकांडों में 70 की मौत

आज जारी सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार राजकोट के उदय शिवानंद कोविड हॉस्पिटल में दो दिन पहले हुई आग दुर्घटना की न्यायिक जांच गुजरात उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त जज के.ए. पूज करेंगे।

गांधीनगर: गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने उनके गृह नगर राजकोट के एक निजी अस्पताल में दो दिन पूर्व लगी आग की दर्दनाक घटना, जिसमें कम से कम पांच कोरोना मरीज़ों की जल कर मौत हो गयी थी, उन्होंने न्यायिक जांच के आदेश दिया हैं।

आज जारी सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार राजकोट के उदय शिवानंद कोविड हॉस्पिटल में दो दिन पहले हुई आग दुर्घटना की न्यायिक जांच गुजरात उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त जज के.ए. पूज करेंगे। न्यायमूर्ति पूज को ही गत अगस्त माह में आठ कोरोना मरीज़ों की जान लेने वाले अहमदाबाद में श्रेय हॉस्पिटल अग्निकांड की जांच भी सौंपी गयी थी।

बता दे कि गुजरात में पिछले साल मई से अब तक लगभग आधा दर्जन अग्निकांड हुए हैं और इनमे कम से कम 70 लोगों की मौत हुई है। इसी माह अहमदाबाद की एक फ़ैक्टरी में आग लगने से 12 श्रमिक मारे गए थे। गत जून माह में भरूच ज़िले के दहेज की एक केमिकल फ़ैक्टरी की आग में 10 जाने गयी थीं। इसी साल फ़रवरी में अहमदाबाद में एक कपड़ा फ़ैक्टरी में लगी आग में छह मज़दूर मारे गए थे। जनवरी में वडोदरा के निकट एक फ़ैक्टरी में विस्फोट और आग लगने से छह मज़दूरों की मौत हुई थी। पिछले साल मई में सूरत के एक कोचिंग सेंटर में आग लगने से 22 छात्रों की दर्दनाक मौत हुई थी।

यह भी पढ़े: लखनऊ में कल से शराब की दुकानें रहेंगी बंद, 48 घंटे बाद लड़ेंगे जाम

Related Articles