आगरा : जूनियर डॉक्‍टराें ने सशर्त खत्‍म की हड़ताल

pitaai

आगरा। आगरा के मेडिकल कॉलेज में दो दिनों से चल रही डॉक्‍टरों की हड़ताल सशर्त खत्‍म हो गई है। जूनियर डॉक्‍टरों से पुलिस और मेडिकल कॉलेज प्रशासन को उचित कार्रवाई के लिए एक हफ्ते का वक्‍त दिया है। डॉक्‍टरों ने कहा है कि अगर एक हफ्ते में जूनियर डॉक्‍टरों की पिटाई करने वाले गिरफ्तार नहीं किए गए तो दोबारा हड़ताल कर देंगे।

पढ़ें : आगरा : वार्ड ब्‍वाय की पिटाई में मेडिकल कॉलेज के तीन डॉक्‍टर निष्‍कासित

वहीं, डाक्टरों की पिटाई करने वाले लोग इमरजेंसी के सीसीटीवी में कैद हो गए हैं। पुलिस अधिकारी देर रात फुटेज से उनकी पहचान करने में जुटे थे। हालांकि कोई भी चेहरा पहचान में नहीं आया। हालांकि हमलावरों कई सैन्य वर्दीधारी फौजी भी बताए जा रहे हैं।

क्‍या है पूरा मामला

बीते गुरुवार को तीन ट्रकों में आए 15-20 लोगों ने मेडिकल कॉलेज के दो जूनियर डाक्टरों को पीट दिया। हमले के बाद इमरजेंसी सेवाएं ठप कर डाक्टरों ने एसएन के बाहर रोड जाम करने की कोशिश की। उनकी पुलिस से झड़प भी हुई। वे एसआई मनोज कुमार को तुरंत निलंबित करने की मांग कर रहे थे। आरोप है कि उन्होंने जाते समय हमलावरों से हाथ मिलाया था। डाक्टरों ने एलान किया कि जब तक उन्हें सुरक्षा का भरोसा नहीं मिलता, मेडिकल सेवाएं बंद रहेंगी। शुक्रवार तक डॉक्‍टर इसी मांग पर अड़े रहे कि हमलावरों की गिरफ्तारी हो। इस दौरान एक महिला मरीज की मौत भी हो गई।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button