अभी-अभी: कांग्रेस विधायक रोशन बेग ने दिया इस्‍तीफा, स्‍पीकर को सौंपा इस्तीफा पत्र

0

PATNA: कर्नाटक में इस्तीफे का सिलसिला जारी है। कर्नाटक की सियासत में जारी उठापटक के बीच कांग्रेस के विधायक और पूर्व मंत्री रोशन बेग ने विधानसभा से इस्‍तीफा दे दिया। रोशन बेग ने अपना इस्तीफा पत्र स्पीकर को सौंपा है।कर्नाटक में चल रहे इस उठापटक का मसला मंगलवार को लोकसभा में भी उठा। लोकसभा में अधीर रंजन ने कहा कि ये शिकार की पॉलिटिक्स बंद होनी चाहिए। कहा जा रहा है कि कर्नाटक के बाद अब मध्य प्रदेश की बारी है। विधायकों को जबरन यहां से वहां लाया जा रहा है। इस पर राजनाथ सिंह ने जवाब देते हुए कहा कि आप लोग अपने घर को संभाल नहीं पा रहे हैं और हम पर आरोप लगा रहे हैं। ऐसा कर सदन का समय बर्बाद कर रहे हैं।

बता दें कि एचडी कुमारस्वामी की सरकार संकट में है। इससे पहले कांग्रेस कोटे के सभी मंत्रियों ने प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुंडू राव को अपना इस्तीफा सौंपा। साथ ही साथ कर्नाटक के डिप्टी सीएम जी. परमेश्वर ने भी अपना इस्तीफा दे दिया। वहीं, कर्नाटक में मंत्री और निर्दलीय विधायक नागेश ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। नागेश ने बीजेपी को अपना समर्थन दिया है।

कांग्रेस-जनता दल (एस) गठबंधन से बगावत कर इस्तीफा देने वाले 13 विधायक अपने फैसले पर अड़े हुए हैं। रविवार देर रात तक उन्हें मनाने की कोशिशें चलती रहीं लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। सरकार बचाने के लिए मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी इस्तीफा देने के भी संकेत मिल रहे हैं। कांग्रेस से इस्‍तीफा देने वाले ज्‍यादातर बागी विधायक पूर्व मुख्‍यमंत्री सिद्धारमैया के करीबी हैं। इस कारण सरकार पर मंडराते संकट के लिए परोक्ष रूप से सिद्धारमैया को जिम्‍मेदार ठहराया जा रहा है।

बता दें कि शनिवार को सत्‍तारूढ़ कांग्रेस-जेडीएस के जिन 11 विधायकों ने एक साथ इस्‍तीफा दिया, वे सब अलग-अलग कारणों से अपनी संबंधित पार्टियों से नाराज रहे। त्‍यागपत्र देने वाले कांग्रेस पार्टी के विधायकों की संख्‍या 9 है और सबकी नाराजगी गठबंधन सरकार की कार्यशैली से है। इनमें से ज्‍यादातर विधायकों की शिकायत इस बात से है कि मंत्रीपद के लिए उनकी अनदेखी की गई।

loading...
शेयर करें