95 साल की महिला को किशोर अदालत सुनाएगी सजा, जानें क्यों

जर्मनी: जर्मनी में हिटलर की सहयोगी महिला को 10 हजार लोगों की हत्या का आरोपी ठहराया गया है। 95 साल की एक नाजी महिला को द्वितीय विश्व युद्ध में लोगों की हत्या का दोषी ठहराया है। बताया जा रहा है कि यह महिला द्वितीय विश्व युद्ध के समय नाजियों के एक यातना गृह में सचिव के रूप में काम करती थी। हालांकि अभी इस महिला की सजा को लेकर कोई ऐलान नहीं हुआ है।

किशोर अदालत सुनाएगी सजा

95 साल की इस महिला को सजा के लिए किशोर अदालत में पेश किया जाएगा। जी हां ये आप सुनकर चौंक गए होंगे कि 95 साल की महिला को किशोर कोर्ट में क्यों पेश किया जाएगा। तो हम आपको बता दें कि जब यह घटना हुई थी तब महिला की उम्र 21 साल से कम थी इसलिए, जर्मनी के कानून के तहत महिला को किशोर अदालत में पेश किया जाएगा।

इससे पहले एक व्यक्ति को हो चुकी है सजा

इसी मामले में 5 हजार से ज्यादा हत्याओं के मामले में 93 साल के एक व्यक्ति को पिछले साल किशोर कोर्ट ने दोषी ठहराया था। तब उस व्यक्ति की उम्र 17 साल थी और वह स्तुथोफ कैंप में गार्ड का काम करता था।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड (Uttarakhand) ग्लेशियर तबाही: सुरंग में 20-25 लोग फंसे, लोगों के शव बरामद

Related Articles

Back to top button