बीजेपी के लिए कैराना की राह आसान नहीं, अब RLD प्रत्याशी को मिला इनका समर्थन

कैरानागोरखपुर और फूलपुर के बाद बीजेपी के लिए कैराना की राह आसान नहीं है। यहां भी सपा बसपा मिलकर अजीत सिंह की पार्टी राष्ट्रीय लोकदल का साथ दे रहे हैं। अब इसके बाद उनके साथ निर्दलीय प्रत्याशी कंवर हसन ने आरएलडी का समर्थन करने का फैसला किया है।

कंवर हसन

इस बात से बीजेपी को बड़ा झटका लगा है। कंवर हसन रालोद प्रत्याशी तबस्सुम हसन के देवर हैं। इनके साथ आने से करीब 20 हजार से ज्यादा वोट समाजवादी खेमे को मिल सकता है। 28 मई को यूपी के कैराना में वोट डाले जाएंगे हैं। इसके साथ ही नूरपुर सीट पर विधानसभा उपचुनाव भी 28 मई को ही होंगे।

गोरखपुर और फूलपुर हर के बाद कैरान बीजेपी के लिए काफी मायने रखता है। कैरान की सीट बीजेपी के नाक का सवाल है। कैराना में राष्ट्रीय लोक दल की उम्मीदवार तबस्सुम हसन को समाजवादी पार्टी, कांग्रेस, बीएसपी के बाद आम आदमी पार्टी का भी समर्थन मिला हुआ है।

भाजपा ने यूपी की कैराना लोकसभा सीट से भाजपा ने दिवंगत सांसद हुकुम सिंह की बेटी मृगांका सिंह को टिकट दिया है। ऐसे में कंवर हसन के रालोद में शामिल हो जाने से तबस्सुम हसन को बड़ा फायदा हो सकता है। आरएलडी ने अपना चुनावी अभियान तेज कर दिया है। मखिया अजित सिंह और उनके बेटे जयंत चौधरी गांव-गांव घूम कर तबस्सुम के पक्ष में वोट मांग रहे हैं।

वहीँ समाजवादी पार्टी का भी पूरा अमला कैराना में जमा हुआ है। कांग्रेस और बसपा भी अभियान का हिस्सा बनी हुई है। बीजेपी भी पुरजोर कोशिश कर रही है। इसी कड़ी में आज सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ कैराना में हैं।

Related Articles