कानपुर एनकाउंटर:आरोपी विकास दुबे ने पिस्टल छीन कर किया था पुलिस पर हमला

यूपी:कानपुर हत्याकांड में आठ पुलिसकर्मियों की मौत का जिम्मेदार कुख्यात विकास दुबे आठ दिन बाद कानपुर में मार गिराया गया। हम आपको घटना स्थल की फोटोज दिखाने जा रहे हैं जहां मुठभेड़ के बाद विकास दुबे ढेर हुआ।विकास को गुरुवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद यूपी एसटीएफ उसे कानपुर ला रही थी। कानपुर के सचेंडी थाना क्षेत्र में किसान नगर नहर के पास पुलिस की गाड़ी पलट गई।सूत्रों की मानें तो गाड़ी में ड्राइवर के अलावा तीन एसटीएफ के जवान थे। घटना के वक्त कानपुर के सचेंडी इलाके में बारिश हो रही थी। इसी दौरान एसटीएफ की एक गाड़ी पलट गई। विकास पिछली सीट पर बीच में बैठा था।इसी बात का फायदा उठाकर विकास ने एक एसटीएफ जवान की पिस्टल छीनी और भागने की कोशिश की। विकास की फायरिंग और गाड़ी पलटने से कुल चार एसटीएफ जवान घायल भी हुए। जवाबी फायरिंग में विकास को मारा गया है।विकास को चार गोलियां लगी हैं। जिनमे से एक उसके सिर में दो सीने में और एक कमर में लगी है। वहीं मुठभेड़ में चार एसटीएफ के जवान घायल हुए है। मौके से वह असलहा बरामद हुआ है जिसे छीन कर विकास दुबे भागा था।

Related Articles