कानपुर: बालिका गृह की लापरवाही, क्वारनटीन सेंटर से भागी दो लड़कियां

कानपूर के राजकीय बालिका गृह में फिर बड़ी लापरवाही सामने आई है. क्वारनटीन सेंटर से दो लड़कियां भाग गई हैं. मौके पर पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी पहुंच गए हैं. गौरतलब है कि बालिका गृह की 57 लड़कियां कोरोना पॉजिटिव पाई गईं. सभी को क्वारनटीन सेंटर में रखा गया है, जिसमें दो लड़कियां आज भाग गई.

सरकारी बालिका गृह में 57 लड़कियों के कोरोना वायरस के मामले में प्रशासन की भारी लापरवाही सामने आई थी. इस पूरे मामले में कोरोना की जांच को लेकर ढिलाई बरत रहा था. दरअसल 17 जून को उत्तर प्रदेश बाल संरक्षण आयोग की टीम इस बालिका गृह के निरीक्षण के लिए पहुंची थी.

कानपुर के बालिका गृह में पाई गईं तमाम कमियों और कोरोना वायरस को लेकर आयोग ने प्रशासन को निर्देश दिया कि इन लड़कियों की जांच कराई जाए. जांच में पूरे बालिका गृह में 57 लड़कियां कोरोना पॉजिटिव पाई गईं. अपनी जांच के दौरान वहां रहने वाली लड़कियों को खतरे में डालते हुए प्रशासन ने पहले से किसी को आइसोलेट नहीं किया.

इन लड़कियों में सात लड़कियां ऐसी भी हैं जो गर्भवती हैं. पॉक्सो समेत रेप के दूसरे मामलों में पीड़िता लड़कियां प्रदेश के अलग- अलग हिस्सों से कोर्ट के आदेश पर यहां लाई गई हैं. यह बात भी सामने आई कि बालिका गृह में तय सीमा से ज्यादा लड़कियां रह रही थीं, जिसकी वजह से संक्रमण की तादाद बहुत ज्यादा हो गई.आपको बता दें कि 18 जून को एक साथ 33 लड़कियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. 19 जून को 16 और संवासिनियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई. 20 जून की रात जांच रिपोर्ट में 8 और कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए. संवासिनी गृह में 12 वर्ष से लेकर 34 साल तक की महिलाएं रहती हैं.

Related Articles