कर्नाटक: फ्लोर टेस्ट से पहले ही आ गया नतीजा, इस पार्टी को मिली जीत

बेंगलुरु। कर्नाटक विधानसभा में शक्ति परिक्षण से पहले सूबे के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री बीएस येदुरप्पा ने हार मान ली है। दरअसल, फ्लोर टेस्ट के लिए होने वाले कार्यवाही से पहले बीएस येदयुरप्पा ने इस्तीफे का ऐलान कर दिया है। फ्लोर टेस्ट से पहले विधानसभा में उपस्थित सदस्यों को संबोधित करते हुए बीएस येदुरप्पा ने खुद को किसानों और जनता का हितैषी बताते हुए कांग्रेस के खिलाफ जमकर हमला भी बोला।  येदयुरप्पा के इस्तीफे को कांग्रेस एक बड़ी जीत के रूप में देख रही है।

बीएस येदयुरप्पा ने अपने संबोधन में कहा कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव में जनता को भाजपा को सबसे बड़ी पार्टी को बनाया लेकिन 113 सीटों का पूर्ण बहुमत नहीं दिया। उन्होंने कहा कि लेकिन मैं हार नहीं मानूंगा और फिर चुनाव लड़कर आऊंगा और इस बार भाजपा 150 से ज्यादा सीटें हासिल करेगी। राज्य में बहुत जल्द चुनाव हो सकेंगे।

फ्लोर टेस्ट से पहले येदियुरप्पा ने कहा कि कर्नाटक के किसान आंसू बहा रहे हैं। करीब 3,700 किसानों ने खुदकुशी की। जब तक जिंदा रहूंगा किसानों के हित के लिए काम करता रहूंगा। मैं किसानों को बचाना चाहता हूं। हमने मौके पर जाकर किसानों की मदद की।’ उन्होंने आगे कहा कि पिछली सरकार से नाराज लोगों ने उनके खिलाफ वोट दिया। गरीब किसानों को बेहतर जीवन मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि वह जनसेवा के लिए जीवन को समर्पित करना चाहते हैं।

आपको बता दें कि 222 सीटों पर हुए कर्नाटक विधानसभा चुनाव में भाजपा 104 सीटों पर मिली जीत के साथ सूबे की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी बनकर उभरी । जबकि कांग्रेस के खाते 77 और जेडीएस के खाते में 37 सीटें गई है। दो सीटों पर अन्य का कब्ज़ा है।

चुनाव नतीजे सामने आने के बाद कांग्रेस ने जेडीएस को अपना समर्थन देने का ऐलान कर दिया था लेकिन सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते राज्यपाल ने भाजपा को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया था, जिसके बाद पार्टी में येदियुरप्पा ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की थी। राज्यपाल ने येदियुरप्पा सरकार को बहुमत साबित करने के लिए 14 दिन का समय दिया था।

हालांकि राज्यपाल का यह रवैया कांग्रेस को नागवार गुजरा और उन्होंने इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की। सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका पर सुनवाई करते हुए राज्यपाल के फैसले को दरकिनार कर दिया है और भाजपा सरकार को बहुमत साबित करने के लिए शनिवार शाम तक का समय दिया है।

Related Articles