‘कर्नाटक में कोई कुत्ता भी मर जाए तो क्या PM मोदी जिम्मेदार हैं’

बेगलुरु। कन्नड़ पत्रिका की संपादक गौरी लंकेश की हत्या पर अब श्रीराम सेना के प्रमुख प्रमोद मुतालिक ने कुछ ऐसा कहा है जिसके बाद हंगामा मचा गया है। गौरी लंकेश और कलबुर्गी की हत्या को लेकर उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा है कि कांग्रेस के शासन के दौरान दो हत्याएं कर्नाटक में हुईं और दो महाराष्ट्र में। उस दौरान किसी ने कांग्रेस सरकार की नाकामयाबी पर सवाल नहीं उठाए। इसके बदले, वे लोग पुछ रहे हैं कि गौरी लंकेश की हत्या पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी क्यों चुप हैं? अगर कर्नाटक में कोई कुत्ता भी मरता है तो क्या मोदी जिम्मेदार हैं?’

प्रमोद मुतालिक

आपको बता दें कि ‘लंकेश पत्रिका’ की संपादक गौरी लंकेश कि हत्या पिछले साल कर दी गई थी। कुछ अज्ञात बंदूकधारियों ने उन्हें घर के सामने गोली मारी थी।  पुलिस के अनुसार, अज्ञात हमलावरों ने कुल सात गोलियां मारी जिनमें तीन (दो छाती और एक माथे पर) गौरी को लगीं थीं।

वहीं इस मामले की जाँच कर रही एसआईटी की टीम का कहना है कि गौरी और तर्कवादी एवं अंधविश्वास विरोधी गोविंद पंसारे तथा एम एम कलबुर्गी को एक ही हथियार से मारा गया था।  वहीं इस हत्याकांड के मामले एसआईटी ने 15 जून को बताया था कि परशुराम वाघमारे ने गौरी की हत्या को अंजाम दिया था। परशुराम वाघमारे गौरी लंकेश की हत्या के संबंध में गिरफ्तार किए गए छह संदिग्धों में से एक है।

मामले की जाँच कर रहे एसआईटी ने श्रीराम सेना के जिला प्रमुख राकेश मथ को पूछताछ के लिए 17 जून को समन भेजा था। और बताया जा जा रहा कि बाघमारे का हिन्दू वाड़ी संघटन से संबंध इसलिए कई लोगों से पूछताछ की जा रही है। इस बीच, श्रीराम सेना के संस्थापक अध्यक्ष प्रमोद मुतालिक ने खुद को और अपने संगठन को वाघमारे और गौरी की हत्या से अलग कर लिया है। मुतालिक ने कहा, ‘‘श्रीराम सेना और वाघमारे के बीच कोई संबंध नहीं है। वह न तो हमारा सदस्य है और न ही हमारा कार्यकर्ता है।

 

Related Articles