शशिकला को जेल में VIP सुविधाओं का पर्दाफाश करने वाली अधिकारी को तोहफे में मिला ट्रांसफर

0

बेंगलुरू। एआईएडीएमके नेता शशिकला को जेल में मिल रही वीआईपी सुविधाओं का खुलासा करने वाली कर्नाटक की डीआईजी जेल डी. रूपा को ईनाम में ट्रांसफर दिया गया है। उन्हें अब ट्रैफिक विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है। साथ ही सरकार ने उनसे यह स्पष्ट करने को कहा है कि उन्‍होंने मीडिया को इसकी जानकारी क्यों दी।

इस वीआईपी सुविधाओं के बदले 2 करोड़ रुपए लिए थे

रूपा के द्वारा दी गई रिपोर्ट के मुताबिक, जेल डायरेक्टर जनरल ने इस वीआईपी सुविधाओं के बदले 2 करोड़ रुपए लिए थे। हालांकि डीजी ने इस सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है। रूपा आईपीएस (कर्नाटक 2000 बैच), पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) को तत्काल प्रभाव से ट्रैफिक और सड़क सुरक्षा के आयुक्त आईपीएस ए।एस।एन मूर्ति के स्थान पर अगले आदेश तक पुलिस महानिरीक्षक (आईजीपी) के रूप में स्थानांतरित किया जाता है।

रूपा के साथ ही चार अन्य वरिष्ठ अधिकारियों का भी तबादला किया है

सरकार ने रूपा के साथ ही चार अन्य वरिष्ठ अधिकारियों का भी तबादला किया है। वहीं, इस सब से बेपरवाह रूपा ने कहा, ‘मैं अपनी रिपोर्ट पर कायम हूं। मैंने कहीं भी रिपोर्ट की सामग्री का ब्योरा नहीं दिया है’। उन्‍होंने कहा कि ‘मैंने आरोपों का ब्योरा किसी को नहीं दिया है, बल्कि किसी और ने ऐसा किया है और इसलिये मैंने आचरण नियमों का कोई उल्लंघन नहीं किया है’। उन्‍होंने कहा कि डीजीपी (कारागार) ने पहले रिपोर्ट के बारे में बात की और उसके बाद उन्होंने अपनी प्रतिक्रिया दी।

loading...
शेयर करें