करुणानिधि के अंतिम दर्शन में मची भगदड़, 2 की मौत, 40 लोग गंभीर रूप से घायल

0

नई दिल्ली। द्रमुक नेता एम. करुणानिधि की अंतिम झलक पाने यहां बुधवार को उमड़ी हजारों की भीड़ के कारण राजाजी हॉल के बाहर भगदड़ मच गई, जिसमें कम से कम दो लोगों की मौत हो गई और 40 अन्य घायल हो गए। एक व्यक्ति ने कहा, “सुबह से भीड़ में धक्का-मुक्की की स्थिति है।” हादसा उस वक्त हुआ, जब द्रमुक नेता और करुणानिधि के बेटे एम.के. स्टालिन ने भीड़ से शांत रहने की अपील की।

उल्लेखनीय है कि मंगलवार को कावेरी अस्पताल में करुणानिधि ने अंतिम सांस ली था। वे 94 वर्ष के थे। वह काफी दिनों से बीमार चल रहे थे और स्थिति बिगडऩे पर उन्हें 28 जुलाई को अस्पताल में भर्ती किया गया था।

PunjabKesari

उनके निधन का समाचार फैलते ही पूरे राज्य में शोक की लहर दौड़ गयी। कल रात उनकी हालत गंभीर होने के बाद से ही बड़ी संख्या में लोग अस्पताल के बाहर जमा होना शुरू हो गए थे और आज शाम भारी भीड़ जमा थी।

loading...
शेयर करें