अमेरिका से लेकर लंदन तक कश्मीरी पंडितों ने पाकिस्तान के खिलाफ बुलंद की आवाज, ये है वजह

कश्मीरी पंडितों द्वारा किए जा रहे इन प्रदर्शनों में पाक के खिलाफ जमकर नारे लगाए गए।

नई दिल्लीः अमेरिका से लेकर ब्रिटेन की राजधानी लंदन तक में पाकिस्तन के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं। कश्मीरी पंडितों द्वारा किए जा रहे इन प्रदर्शनों में पाक के खिलाफ जमकर नारे लगाए गए।

दरअसल गुरुवार के दिन को कश्मीरी पंडित काले दिवस के रूप में मनाते हैं। इसी दिन से करीब 73 साल पहले कश्मीरी पंडितों को कश्मीर से अलविदा कहना पड़ा था। जिसके लिए दुनिया भर के कश्मीरी पंडित पाकिस्तानको दोषी मानते हैं।

इसी के मद्देनजर कश्मीरी पंडितों ने जहां अमेरिका की राजधानी वशिंगटन डीसी में पाकिस्तान दूतावास के सामने जमकर प्रदर्शन किया। हालांकि कोरोना वायरस के कारण इन प्रदर्शनों में तमाम एहतियात बरते गए और लोगों ने कारों के ऊपर बैनर चिपका कर प्रदर्शन में हिस्सा लिया। वहीं लंदन में पाकिस्तान उच्चायोग के बाहर प्रदर्शन किया गया। इस दौरान भी कोरोना महामारी के चलते इन प्रदर्शनों में ज्यादा लोगों के भाग लेने पर पाबंदी लगायी गयी थी।

गौरतलब है कि 90 की दशक के शुरूआत में कश्मीर में उथल-पुथल के कारण स्थानीय हिंदू समुदायों, कश्मीरों पंडितों को घाटी से हमेशा के लिए रुकसत लेनी पड़ी। इस दौरान कस्मीर में भड़के दंगों में कई लोगों की जान चली गयी तो ज्यादातर लोग बेघर हो गए। घाटी में घटित इस घटना के लिए दुनिया भर में मौजूद कश्मीरी पंडित पाकिस्तान को जिम्ममेदार मनाते हुए इस दिन को काला दिवस के रूप में मनाते हैं।

Related Articles