अब 24 घंटे अपनी बिजली से जगमगाएगा केदारधाम

0

utt-kedarnath-2

रुद्रप्रयाग। चारधामों में से एक केदारनाथ में विद्युत समस्या का समाधान होने जा रहा है। बहुत जल्द केदारधाम खुद की विद्युत से रौशन होगा। उत्तराखंड अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण (उरेडा) केदारनाथ में 200 किलोवाट की लघु जल विद्युत परियोजना लगाने जा रहा है। केदारनाथ में इन दिनों पुनर्निर्माण कार्य जोरशोर से चल रहे हैं। इन कामों को पूरा कर रहे नेहरू पर्वतारोहण संस्थान (निम) ने इस परियोजना का भवन बनाकर तैयार कर दिया है।

utt-kedarnath-3

निम के मीडिया प्रभारी आनंद पंवार के मुताबिक मौजूदा समय में केदारनाथ के लिए विद्युत आपूर्ति रुद्रप्रयाग से की जाती है। विपरीत भौगोलिक परिस्थितियों और लगातार बदलते मौसम के चलते कई बार विद्युत की आपूर्ति सुचारू रखना बहुत बड़ी चुनौती साबित होती थी। इस सभी समस्याओं को देखते हुए ही यहां लघु जल विद्युत परियोजना के निर्माण का फैसला किया गया।

utt-kedarnath-4

केदारनाथ में मंदाकिनी में चार अन्य नदियां मधु गंगा, दूध गंगा, सरस्वती और स्वर्गद्वारी मिलती हैं। इस परियोजना के लिए वासुकीताल से निकलने वाली दूध गंगा का चयन किया गया है। पंवार ने कहा कि मंदिर से करीब आधा किलोमीटर दूर बहने वाली दूध गंगा नदी पर जल्द ही ये परियोजना बन जायेगी। पंवार के मुताबिक पर्यावरण की दृष्टि से लघु जल विद्युत परियोजना काफी फायदेमंद हैं। उन्होंने बताया कि केदारनाथ के बाद ऐसे प्रोजक्ट रुद्रप्रयाग के दूरस्थ और ऊंचाई वाले क्षेत्रों में स्थित गांवों में भी लगाए जाएंगे। केदारनाथ की तर्ज पर मदमहेश्वर को भी लघु जल विद्युत परियोजना से रौशन किया जाएगा।

loading...
शेयर करें