केजरीवाल सरकार का बड़ा ऐलान, कोरोना पीड़ित परिवार की ऐसे करेंगे मदद

 देश में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। कुछ राज्यों में हलात इस कदर बिगड़ गया है कि संभलने का नाम नहीं ले रही है।

नई दिल्ली: देश में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। कुछ राज्यों में हलात इस कदर बिगड़ गया है कि संभलने का नाम नहीं ले रही है। राज्य सरकारें लॉकडाउन लगाकर कोरोना को रोकने का काम कर रही है। वहीं बात करें दिल्ली सरकार की तो वहां पर संक्रमण दर कम हुआ है और केजरीवाल सरकार कोशिश कर रही है कि किसी भी दिल्लीवासियों को किसी गंभीर समस्या का सामना न करना पड़ें।

आपको बता दें कि दिल्ली में कोरोना के मामलों में आज फिर कमी आई है। 5 अप्रैल के बाद पहली बार ऐसा हुआ है जब 4500 से कम मामले सामने आए हैं। दिल्ली में अब पॉजिटिविटी रेट भी गिरकर 7 फीसदी से नीचे आ गई है। इन सबके बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि कोरोना के खिलाफ जारी इस जंग में कुछ परिवार बेहद मुश्किल हालातों का सामना कर रहे हैं, ऐसे सभी जरूरतमंद परिवारों के लिए आज हम राशन से लेकर पेंशन तक जैसी चार महत्वपूर्ण घोषणाएं करने जा रहे हैं।

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में 72,00,000 राशन कार्ड धारकों को इस महीने से राशन मुफ्त में दिया जाएगा और उनसे पैसे नहीं लिए जाएंगे। केंद्र की तरफ से भी इन राशन कार्ड धारकों को 5 किलो राशन मुफ्त में मिल रहा है. अब उन्हें इस महीने 10 किलो राशन मुफ्त में मिलेगा। उन्होंने कहा कि ऐसे कई लोग हैं जो गरीब है, उनका राशन कार्ड नहीं बन पाया है। जिन लोगों के पास राशन कार्ड नहीं है, जो कहेगा वह गरीब है, उसके पास राशन नहीं है, उन्हें भी दिल्ली सरकार राशन देगी। इसमें किसी तरह का कोई दस्तावेज नही मांगा जाएगा।

केजरीवाल ने कहा कि

इसके साथ ही केजरीवाल ने कहा कि ऐसा कोई भी परिवार जिनमें से किसी सदस्य की मौत कोरोना की वजह से हुई है उन्हें अनुग्रह राशि के रूप में 50,000 रुपये दिए जाएंगे. इसके साथ-साथ ऐसे बच्चे जिनके माता-पिता में से किसी की कोरोना से मृत्यु हुई है और बच्चे अनाथ हो गए हैं। ऐसे हर एक बच्चे को 2,500 रुपये हर महीने 25 साल की उम्र तक दिए जाएंगे, इसके साथ उन्हें मुफ्त शिक्षा भी दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश में गिरा Corona का ग्राफ, कुल 8737 नये मरीजों की पुष्टि, 255 की मौत

Related Articles

Back to top button