जिंदगी भर तो लॉकडाउन में नही रह सकते,सरकार चार कदम आगे है केजरीवाल 

नई दिल्ली:दिल्ली में लगातार कोरोना वायरस महामारी को बढ़ हुए, संक्रमण ने सरकार को चिंता में डाल दिया है. बता दे की शनिवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने फेसबुक लाइव के माध्यम से पत्रकारों से बातचीत की. उन्होंने कहा कि दिल्ली में कोरोना के मामलों में तेजी से वृद्धि हो रही है, हम इसे स्वीकार करते हैं. लेकिन चिंता की कोई बात नहीं है, मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि हम इससे लड़के के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. ये चिंता की बात है लेकिन इससे डरने की जरूरत नहीं है. मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि आपकी सरकार कोरोना वायरस से चार कदम आगे है.केजरीवाल ने कहा कि आज कोई ये नहीं कह सकता कि एक महीना या दो महीने और लॉकडाउन कर लो तो कोरोना ठीक हो जाएगा. कोरोना रहेगा, अगर कोरोना रहेगा तो कोरोना का इलाज करने का इंतजाम करना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि हमारी पूरी सरकार इस समय कोरोना के मरीजों का इलाज करने पर ध्यान दे रही है. केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली का मुख्यमंत्री होने के नाते मुझे दो चीजों की चिंता है.

पहला ये कि अगर ​दिल्ली में कोरोना की वजह से मौत का आंकड़ा बढ़ने लगा तो और दूसरा मान लीजिए कि कोरोना के 10,000 मरीज हैं और हमारे पास 8,000 बेड हैं तो ये हमारे लिए चिंता का विषय है.मुख्यमंत्री ने बताया कि आज दिल्ली में कोरोना वायरस के 17,386 मामले हैं, इनमें से 2,100 मरीज अस्पताल में हैं. बाकी सब घरों के अंदर हैं,

वो घरों के अंदर इलाज करा रहे हैं. पिछले हफ्ते हमने ऑर्डर जारी कर दिए हैं 5 जून तक दिल्ली में 9,500 बेड तैयार हो जाएंगे.अरविंद केजरीवाल ने कहा कि एक ऐप बन गई है अभी उसकी टेस्टिंग चल रही है. सोमवार को उसे लॉन्च करेंगे, उस ऐप में आपको हर एक अस्पताल का डेटा मिलेगा कि किस अस्पताल में कितने बेड और वेंटिलेटर हैं और कितने खाली हैं. इससे मरीजों को नजदीकी अस्पताल में पहुंचने में सहूलियत होगी.

Related Articles