अमित शाह के इस मास्टर प्लान से बदल सकती है केरल की सियासत

तिरुवनंतपुरम : NDA ने रविवार को केरल विधानसभा चुनाव (Kerala Assembly Elections) के दौरान एक नए नारे की शुरुआत की है। अमित शाह ने (Amit Shah) “पुथिया केरलम मोडिकोपम” (मोदी के साथ नया केरल) के नाम से इस नए नारे की शुरुआत की है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) रविवार को शहीदमुखम में बीजेपी (BJP) की केरल ‘विजय यात्रा’ के दौरान इस नारे की शुरुआत की। इस दौरान शाह ने वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (LDF) और यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (UDF) पर जमकर हमला किया और केरल के लोगों से “भगवान का अपना देश” केरल को देश का नंबर एक राज्य विकसित करने के लिए NDA को एक मौका देने का आग्रह किया। शाह (Amit Shah) ने कहा कि एलडीएफ और यूडीएफ के बीच केरल में घोटाले करने के लिए वर्चस्व की लड़ाई चल रही है। उन्होंने कहा कि जब ​​यूडीएफ सत्ता में आती है, तो वह सौर घोटाला करती है और जब एलडीएफ सत्ता में आती है, तो वह डॉलर, सोने का घोटाला करती है।

केवल भाजपा ही बचा सकती है केरल को

मेट्रोमैन ई श्रीधरन, जिन्होंने हाल ही में बीजेपी ज्वाइन की है, उन्होंने कहा कि कई लोगों ने उनसे पूछा था कि उन्होंने इस उम्र में राजनीति में प्रवेश क्यों किया। मेरे पास इसका केवल एक ही उत्तर है। मैं देश के लिए कई परियोजनाएं करने में सक्षम था। अब, इस उम्र में भी मेरे पास काम करने की ऊर्जा है, जिसका उपयोग मैं केरल के विकास के लिए करना चाहता हूं। इसीलिए मैं बीजेपी में शामिल हुआ।

इसे भी पढ़े; संसद में मोदी सरकार को घेरने के लिए कांग्रेस ने बनाया प्लान, इन मुद्दों को लेकर मचेगा घमासान

राज्य में 13 जिलों को कवर करने के बाद, आज विजया यात्रा राज्य की राजधानी में पहुंची। इस दौरान भजपा प्रदेश अध्यक्ष के सुरेंद्रन ने कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केवल भाजपा ही केरल को बचा सकती है। लोग यहां से बदलाव की मांग कर रहे हैं।

Related Articles