गिर सकती है खट्टर सरकार, बीजेपी के सहयोगी दलों ने अविश्वास प्रस्ताव में कांग्रेस का किया समर्थन

चंडीगढ़ : हरियाणा (Haryana) में मनोहर लाल खट्टर सरकार (Khattar Government) के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव (No confidence motion) को लेकर जननायक जनता पार्टी (JJP) के वरिष्ठ विधायक देवेंद्र सिंह बबली (Devendra Singh Babli) ने मंगलवार को अपनी पार्टी से किसानों के मुद्दों पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) सरकार से समर्थन वापस लेने का आग्रह किया।

बबली ने कहा कि स्थिति ऐसी है कि हमें (जेजेपी) को अब सरकार का साथ छोड़ देना चाहिए क्योंकि लोग हमसे नाखुश हैं। लोग हमें अपने गांवों में प्रवेश नहीं करने देते हैं। उन्होंने कहा कि मैं मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री से गांवों में कार्यक्रम आयोजित करने का आग्रह करता हूं, या कोई अन्य विधायक ही ऐसा कर के दिखाए। विधायक ने कहा कि लोग हमें लाठियों से पीटेंगे। हमें खुद को बचाने के लिए लोहे का कवच और हेलमेट लेना होगा।

मेरे वोट से सरकार गिरेगी, तो मैं जरूर दूंगा

बबली ने कहा कि अगर अकेले मेरे वोट से सरकार गिर जाती है, तो मैं इसे आज ही करूंगा। उन्होंने कहा कि पूरी पार्टी को एक स्टैंड लेना चाहिए। बता दें कि जेजेपी और भाजपा द्वारा अपने विधायकों को बुधवार को अविश्वास प्रस्ताव के खिलाफ सरकार का समर्थन करने के लिए सदन में मौजूद रहने का व्हिप जारी किया गया है, जिसके बाद उनकी यह टिप्पणी आई है।

खट्टर सरकार के खिलाफ आज अविश्वास प्रस्ताव ला रही कांग्रेस

कांग्रेस राज्य में चल रहे किसानों के विरोध पर खट्टर सरकार (Khattar Government) के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव ला रही है। पूर्व मुख्यमंत्री और विपक्ष के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा (Bhupendra Singh Hudda) ने कहा कि उनकी पार्टी राज्य के लोगों की समस्याओं की ओर सरकार का ध्यान आकर्षित करने के लिए कई “स्थगन” और “कॉलिंग अटेंशन” लाने की योजना बना रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) गारंटी बिल, बढ़ती बेरोजगारी,पेपर लीक, शराब और रजिस्ट्री घोटाले, को लेकर अविश्वास प्रस्ताव लाने जा रही है।

इसे भी पढ़े : चीन को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए पहले ‘क्वाड’ शिखर सम्मेलन का हुआ ऐलान

Related Articles