Khela Hobe Diwas: ममता बनर्जी का ऐलान, West Bengal में मनाया जाएगा ‘खेला होबे दिवस’

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का ने बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने बताया कि लोगों ने 'खेला होबे' की सराहना की है, इसलिए हमारे पास 'खेला होबे दिवस' होगा

कोलकाता: जैसे ही चुनाव आते हैं। सभी राजनितिक दल अपने पार्टी का मनोबल बढ़ाने के लिए नारे लगाते है। जिसके लिए एक से बढ़ कर एक नारे गढ़े जाते है। पश्चिम बंगाल (West Bengal) विधानसभा चुनाव में एक नारा खूब गूंजा और वह पूरे भारत में मशहूर हो गया है। तृणमूल कांग्रेस (TMC) की तरफ दिया गया वो नारा है ‘खेला होबे’। जिसका मतलब होता है खेल होगा।

दरअसल मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) का ने बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने बताया कि अब पश्चिम बंगाल में ‘खेला होबे दिवस’ (Khela Hobe Diwas) मनाया जाएगा। उन्होंने कहा लोगों ने ‘खेला होबे’ की सराहना की है, इसलिए हमारे पास ‘खेला होबे दिवस’ होगा।

खेला होबे का नारा

पश्चिम बंगाल विधानसभा का चुनाव बड़ा ही रोचक रहा। भारतीय जनता पार्टी (BJP) और TMC के बीच कांटे की टक्कर रही। आखिरकार अंत में दीदी यानी की ममता बनर्जी की जीत हुई। बंगाल के लोगों को कमल नहीं भाया उन्हें अपनी ममता दीदी ही पसंद आई। BJP के लाख कोशिशों के बावजूद ममता बनर्जी ने चुनाव का ये खेल जीत लिया।

TMC का खेला होबे नारा सिर्फ यहीं तक ही नहीं रूका खेला होबे के साथ ममता बनर्जी ने एक और नारा दिया था- खेला होबे, देखा होबे, जेता होबे। जिसका मतलब होता है, खेलेंगे, देखेंगे और जीतेंगे। विपक्ष ने इस नारे से ममता बनर्जी को नीचा दिखाने की खूूब कोशिशे की, लेकिन ममता ने हार नहीं मानी उनका मनोबल नहीं टूटा और उन्होंने फिर से बंगाल का मुख्यमंत्री बनकर विपक्ष को करारा जवाब दिया। एक अकेली महिला ने पूरी BJP के बड़े बड़े नेताओं को अपने दम पर धूल चटा दी।

यह भी पढ़ेRavi Shankar Prasad ने Tele-Law कार्यक्रम में हिस्सा लिया, लोगों को कानूनी सलाह देने की योजना

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles