कानपुर : मुर्गे की टांग तोड़ने पर मासूम का MURDER

arsh

कानपुर (उत्‍तरप्रदेश)। कानपुर में नौ साल के मासूम की हत्‍या‍ सिर्फ इसलिए कर दी गई क्‍योंकि उसने खेल-खेल में एक मुर्गे की टांग तोड़ दी। आरोपी युवक ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है।

इस घटना के सामने आने के बाद लोगों ने आरोपी सरफराज के घर में आग लगा दी। उसके घर का सारा सामान राख हो गया। घटना रावतपुर इलाके की है।

सरफराज ने नौ साल के अर्श खान की हत्‍या करने के बाद उसका शव झाडि़यों में फेंक दिया था। मामले में पुलिस ने जांच शुरू की। तफ्तीश के दौरान पड़ोस में रहने वाले सरफराज पर शक गहराया। पूछताछ में उसके राजफाश कर दिया।

सरफराज ने खुद पुलिस को बताया कि अर्श की हत्‍या इसलिए कर दी क्‍योंकि उसने हमारे घर के मुर्गे की टांग तोड़ दी थी। सरफराज को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस ने बुधवार देर रात अर्मापुर के जंगलों से हत्या में इस्‍तेमाल चाकू बरामद कर लिया।

ऐसे खुला राज

बुधवार देर शाम पड़ोसी सरफराज ने अर्श के पिता शमीम के घर सूचना दी कि उसके बेटे को बाइकसवार दो युवक अगवा कर ले गए हैं। अपहरण की सूचना पर पहुंचे थानेदार संतोष सिंह की निगाह पड़ोसी सरफराज पर पड़ गई।

शमीम ने बताया कि सूचना सऱफराज ने ही दी थी। थानेदार ने सरफराज से पूछा कि खून के छींटे कैसे लगे हैं तो उसकी घिग्घी बंध गई। सख्ती पर सरफराज ने अर्श के कत्ल की बात स्वीकार कर ली।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button