कीर्ति बोले, देखते जाइए अब आगे-आगे होता है क्या ?

winter-session-of-parliament_57bcadaa-a976-11e5-bc4d-302034fae57aनई दिल्ली। भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह ने बुधवार को लोकसभा सांसद कीर्ति आजाद को पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में निलंबित कर दिया। डीडीसीए विवाद पर कीर्ति ने सार्वजनिक रूप से वित्‍त मंत्री अरुण जेटली के खिलाफ जो मोर्चा खोला था, यह कार्यवाही उसी का परिणाम मानी जा रही है।

एक निजी टीवी चैनल से बातचीत में कीर्ति आजाद ने कहा कि उन्होंने अभी दूसरी पार्टी में जाने को लेकर कोई फैसला नहीं किया है, लेकिन इसको लेकर उन्‍होंने पार्टी को चेतावनी जरूर दे डाली। उन्होंने कहा कि अब देखि‍ए आगे-आगे होता है क्या। निलंबन के बाद कीर्ति ने कहा कि वो डीडीसीए में अनियमितताओं के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट में पीआईएल दाखिल करेंगे।

दरअसल कीर्ति आजाद ने वित्तमंत्री अरुण जेटली के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। आजाद ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जेटली का नाम लिए बगैर आरोप लगाया था कि डीडीसीए में फर्जी कंपनियों को करोड़ों का भुगतान किया गया। आजाद पिछले काफी समय से डीडीसीए में कथित रूप से हुए भ्रष्टाचार को लेकर काफी मुखर रहे हैं।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने इस मामले पर चुटकी ली है। उन्होंने एक के बाद एक करके कई ट्वीट किए। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने कीर्ति आजाद को निलंबित कर दिया है। उनका अपराध क्या है? उन्होंने तथ्यों के साथ डीडीसीए में हुए भ्रष्टाचार के मुद्दे को उठाया था। उन्होंने आगे कहा कि क्या बीजेपी में भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वालों का यही हश्र होने वाला है? पहले राम जेठमलानी और अब कीर्ति। क्या अगला नंबर शत्रुघ्न सिन्हा का होगा? दिग्विजय ने आगे कहा कि उल्टा चोर कोतवाल को डांटे। आज ये कहावत सच हो गई। इस्तीफा होना था जेटली का और निष्कासन हो गया कीर्ति का।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी कीर्ति आजाद के निलंबन पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने सीधे पीएम नरेंद्र मोदी से जवाब मांगा है। राहुल ने कहा कि मोदी जी ने कहा था कि न खाऊंगा न खाने दूंगा। अब उनके सांसद ने कहा कि किसी ने खाया है तो उसे सस्पेंड करो। अब मोदी जी जवाब दें।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button