किसान आंदोलन: ठंड से मर रहें किसान, सरकार कर रही बैठक पर बैठक, नहीं मिल रहा समाधान

कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली से सटे लगभग सभी सीमाओं पर किसानों का आंदोलन जारी है।

नई दिल्ली: कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली से सटे लगभग सभी सीमाओं पर किसानों का आंदोलन जारी है। सरकार के साथ किसानों की कई बार बैठक हो चुकी है लेकिन अबतक किसानों के मनमुताबिक समाधान नहीं निकला है। किसानों के खिलाफ तीनों काले कानूनों को रद्द करने की मांग को पर केन्द्र सरकार अपनी मंशा साफ-साफ जाहीर कर चुकी है।

कड़ाके की ठंड की वजह से आंदोलन कर रहे किसानों की परेशानियां दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। अखिल भारतीय किसान सभा के महासचिव हन्नान मोल्लाह ने कहा ‘लगभग दो महीनों से हम ठंड के मौसम में परेशान हो रहे हैं। सरकार हमें ‘तारीख पे तारीख’ दे रही है। इस मामले को टालने की कोशिश कर रही है ताकि हम थक जाएं और जगह छोड़ दें। यह उनकी साजिश है।’

अब होगी 10वीं बार बैठक

कृषि कानूनों को लेकर किसान संगठन और केन्द्र सरकार के बीच शुक्रवार को दिल्ली के विज्ञान भवन में 9वीं बार बैठक की गई लेकिन इस बार भी कोई समाधान नहीं निकला।
इस समस्या का समाधान की तलाश में दोनों पक्षों की 10वीं बार बैठक 19 जनवरी को होगी। बैठक के दौरान किसान नेता इन तीनों कानूनों को रद्द करने और एमएसपी ( MSP ) पर कानून बनाने की मांग को लेकर अड़े रहें।

दिल्ली की सीमाओं पर 51वें दिन भी किसानों का प्रदर्शन जारी है। किसानों को पहले ही पता था कि 9वीं बैठक  से भी कोई समाधान नही निकलेगा।

यह भी पढ़े: Oppo ने लॉन्च किया ये नया 5G स्मार्टफोन ( Smartphone ), जानें स्पेसिफिकेशन ( Specification )

Related Articles

Back to top button